भाजपा नेत्री रूपा गांगुली और नेता दिलीप घोष के ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत




अभिनेत्री और प्लेबैक सिंगर से बनी भाजपा की नई नई नेत्री रूपा गांगुली पर उनके गलत बोल की वजह से पुलिस में शिकायत की गयी है। गांगुली ने सावर्जनिक तौर पर जो कहा उस पर किसी भी औरत को शर्म आ सकती है। उन्होंने एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा कि “मैं कुछ कांग्रेस नेताओं के साथ साथ भारत के उन लोगों और राजनेताओं को कहूँगी जो तृणमूल कांग्रेस को समर्थन कर रहे हैं… अपनी बीवी और बेटियों को बंगाल भेजें। अगर 15 दिनों में उनका बलात्कार न हो जाए मुझे कहिएगा।

तृणमूल कांग्रेस ने इस बयान को औरतों के लिए अपमानजनक बताया और कहा कि इससे बंगाल की छवि खराब हुई है। इसी बयान को लेकर रूपा पर उत्तरी 24 परगना के निमता स्टेशन में आईपीसी धारा 505 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस में शिकायत होने के बाद भी अभिनेत्री से भाजपा नेत्री बनी गांगुली अपने टिप्पणी पर कायम हैं, उनहोंने कहा कि जब उन्होंने 15 दिन कहा तो वह थोड़ा ज़्यादा ही उदार थीं।

गांगुली के जवाब में पश्चिम बंगाल के मंत्री सोभन देब चट्टोपाध्याय भी कुछ कम नहीं रहे। उनहोंने कहा कि पूरे राज्य पर आरोप लगाने से पहले उन्हें यह बताना चाहिए कि बंगाल में उनका बलात्कार कितनी बार हुआ तभी इस सत्य की पुष्टि हो सकेगी।

दूसरी तरफ, पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष और वरिष्ठ आरएसएस प्रचारक दिलीप घोष के ख़िलाफ़ भी पुलिस में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस में यह शिकायत सार्वजनिक मीटिंग में उनकी पश्चिम बंगाल की मुख्य मंत्री को धमकी को लेकर की गयी है। खरगपुर में एक सार्वजनिक मीटिंग में उनहोंने कहा कि सुश्री बनर्जी के घर को जला दिया जाएगा अगर उन्होंने उनके ख़िलाफ़ कुछ भी करने की हिम्मत की। उन्होंने कहा कि “अगर ममता में हिम्मत है तो दिलीप घोष को छू कर देख ले, मैं पूरे बंगाल को बंद करवा दूंगा।

दिलीप घोष अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह में आरएसएस के प्रभारी रहे हैं उनहोंने भूतपूर्व सरसंघ चालक सुदर्शन के सहायक के तौर भी काम किया है।

पुलिस इन मामलों की जांच में लगी है और अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




1 Comment

  1. भाजपा में ऐसे ही लोगो का जमावड़ा है… जिन्हें अपनी अनैतिकता पर शर्म भी नहीं आती…

Comments are closed.