आधार कार्ड मार्च 31 तक लिंक करना अनिवार्य नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने बढ़ाई समय-सीमा




नई दिल्ली, 13 मार्च, 2018 (टीएमसी हिंदी डेस्क) | सुप्रीम कोर्ट ने आधार लिंक करने की अंतिम तिथि को बढ़ा दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा जब तक आधार योजना की वैधता पर संविधान पीठ का फैसला नहीं आता तब तक इसे लिंक करना जरूरी नहीं है। इसका मतलब ये हुआ कि जब तक सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ आधार को लिंक कराने से जुड़े मामले पर फैसला नहीं देती तब तक आधार को लिंक कराने की जरूरत नहीं है।



चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता में सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की संवैधानिक बेंच ने कहा कि सरकार आधार से लिंक करने के लिए किसी को बाध्य नहीं कर सकती। इसके लिए सुप्रीम कोर्ट की तरफ से कोई तारीख निर्धारित नहीं की गई है।

ज्ञात हो कि मोबाइल, बैंकिंग, इनकम टैक्स, पैन कार्ड आदि से आधार को लिंक करने की आखिरी तारीख 31 मार्च 2018 थी।  सुप्रीम कोर्ट ने 23 फरवरी 2018 को ही आधार लिंकिंग की तारीख को बढ़ाकर 31 मार्च 2018 किया था।

कोर्ट ने पासपोर्ट बनाने के लिए भी आधार की अनिवार्यता की समय-सीमा को बढ़ा दिया है। हालांकि तत्काल पासपोर्ट के लिए आधार कार्ड का होना अनिवार्य है।

इस निर्णय से सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड को बैंक खाते से लिंक कराने की अनिवार्यता प्रभावित नहीं होगी। पेंशन, एलपीजी सिलेंडर, सरकारी स्कॉलरशिप के लिए आधार कार्ड की जानकारी देना जरूरी जारी रहेगा।

-आईएएनएस

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!