2019 के लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन जरूर, सम्भावना में KCR का फेडरल फ्रंट




नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की विपक्षी एकता की कोशिशों को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बड़ा झटका दिया है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के गैर कांग्रेस-गैर बीजेपी दलों के फेडरल फ्रंट का अखिलेश यादव ने समर्थन किया है.

मध्य प्रदेश में सपा के जीते इकलौते विधायक को मंत्री न बनाए जाने से अखिलेश नाराज हैं. उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी के साथ-साथ कांग्रेस का भी धन्यवाद. एमपी में हमारे एक मात्र विधायक को मंत्री नहीं बनाया गया है ऐसे में अब हमारा रास्ता साफ है.



अखिलेश यादव ने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन जरूर होगा. बीजेपी को सत्ता से हटाने के लिए सभी दलों को एक साथ आना चाहिए.

दरअसल केसीआर कांग्रेस को दरकिनार कर अखिलेश यादव और बसपा अध्यक्ष मायावती के साथ गठबंधन की कवायद में जुटे हैं. अब केसीआर के फेडरल फ्रंट को समर्थन देना कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए दूसरा बड़ा झटका माना जा रहा है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!