सबका विश्वास? ईद की शुभकामनाएँ अमित शाह के ट्वीट से भी रहा नदारद




प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी का सबका साथ सबका विकास तो हमने पिछले पांच साल देखा. इस बार सबका विश्वास प्रधान मंत्री ने जोड़ कर एक बार लोगों के हृदय में जो जगह बनाई और जो उम्मीद जगाई उसकी सच्चाई मोदी सरकार पार्ट 2 के पहले ही ईद पर देखने को मिल गया.

इस बार गृह मंत्री बने अमित शाह के साथ साथ भाजपा के कई बड़े नेताओं के ट्वीट से ईद की शुभकामनाएँ नदारद. अमित शाह ने चार घंटों के भीतर तीन ट्वीट किया जिसमें उनहोंने विश्व पर्यावरण दिवस की बधाई दी, योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की बधाई दी और आरएसएस के दुसरे सरसंघचालक की गोलवरकर की पुण्यतिथि पर उन्हें स्मरण किया लेकिन देश के सबसे बड़े अल्पसंख्यक समुदाय के सबसे महत्वपूर्ण त्योहार पर वह एक लाइन की बधाई न दे सके.

सवाल यह उठता है कि क्या वह प्रधान मंत्री के और आश्वासन की तरह सबका विश्वास वाला मन्त्र भी जुमला बता देंगे.

अमित शाह के अलावा भाजपा के कई मुस्लिम विरोधी कट्टर नेताओं ने भी बधाई नहीं दी. इनमें उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री आदित्यनाथ, बेगुसराय के सांसद गिरिराज सिंह प्रमुख रहे. इस बार अपने संसदीय क्षेत्र में अल्पसंख्यक समुदाय के लोकप्रिय नेता पाटलिपुत्र से भाजपा सांसद राम कृपाल यादव ने भी ईद की बधाई देना ट्विटर पर भूल गए. हालांकि, राम कृपाल यादव ने आज अब तक कोई भी ट्वीट नहीं किया.

सामाजिक कार्यकर्त्ता अशोक मित्रा इस पर कहते हैं कि और अमित शाह के लोगों के बधाई के ट्वीट से जनता को बहुत ज्यादा लेना देना नहीं है. लेकिन देश का गृह मंत्री अगर एक समुदाय की अनदेखी करे तो यह चिंता का विषय है.

उनहोंने कहा कि अमित शाह को समझना चाहिए कि उनके एक ट्वीट से वह अल्प संख्यकों के बीच में एक बढ़िया सन्देश दे सकते थे. न देकर उनहोंने यह जताना चाहा है कि वह देश के नहीं 45-50 प्रतिशत के ही गृह मंत्री हैं जिन्होंने उनकी पार्टी को वोट किया. हालांकि सर्वेक्षणों से यह साबित हुआ है कि उनके मतदाता मुस्लिम भी रहे हैं. अगर न भी रहे हों तो लोकतंत्र में वोट न देने वालों का उन पर उतना ही अधिकार बनता है जितना अधिकार वोट देने वालों का.

गौरतलब है कि मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अभी हाल ही में गिरिराज सिंह के इफ्तार आयोजन को लेकर अपनी ही पार्टी के नेता सुशिल मोदी और अपने गठबंधन के साथियों राम विलास पासवान और नितीश कुमार पर निशाना बनाने के बाद कथित तौर पर अमित शाह ने उनकी खिंचाई की थी.

प्रधान मंत्री का उर्दू में ईद की बधाई

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने ईद की बधाई उर्दू में देशवासियों को दी. उनहोंने अपने ट्वीट में कहा कि “ईद उल फ़ित्र के पुर मुसर्रत (ख़ुशी के अवसर) पर बधाई. खोदा करे कि यह ख़ुसूसी (विशेष) दिन, हमारे मुआशरे (समाज) में हम आहंगी (सद्भाव), रहम दिली और अमन (शान्ति) के जज़्बात को फ़रोग़ (बल) दे. हर कस व नाकस की (हर इंसान) जिंदगी मुसर्रतों (खुशियों) से हमकिनार हो.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*