बिहार : अंजर अंसारी का गुंजन खेमका की हत्या से कोई संबंध नहीं लेकिन फिर भी है हिरासत में




पटना : बीजेपी नेता और पटना के बड़े कारोबारी गुंजन खेमका की हत्या के मामले में बड़ी जानकारी सामने आई है. पुलिस का दावा है कि अभी तक की जांच में हत्या के पीछे व्यावसायिक कारण ही निकल कर सामने आ रहा है.

जाँच अधिकारीयों के मुताबिक जिस तरह से इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया था उससे ये साफ है कि किसी परिचित ने ही घटना को अंजाम दिया है.

पटना एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि इस हत्याकांड में गुंजन खेमका के ड्राइवर से भी पूछताछ की जा रही है क्योंकि गुंजन का ड्राइवर इस हत्याकांड का इकलौता चश्मदीद है इसलिए उससे इस घटना के बारे में बारीकी से जानकारी ली जा रही है.

दरअसल मंगलवार को ही गुजरात पुलिस ने दादर से उस युवक को भी गिरफ्तार किया है जिसने इसी साल जून महीने में गुंजन खेमका को फोन पर जान से मारने की धमकी दी थी. इस मामले में पटना एसएसपी मनु महाराज का दावा है कि गुजरात से गिरफ्तार किए गए युवक अंजर अंसारी का गुंजन खेमका की हत्या से कोई संबंध नहीं है फिर भी युवक को पटना लाकर पूछताछ की जाएगी.



वही आपको बताते चलें कि इस हत्याकांड के बाद से ही राजनीति भी तेज हो चुकी है. आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि युवक अंजर अंसारी विक्षिप्त शख्स की इस हत्याकांड में संलिप्तता नहीं मान रही है तो फिर उसे गिरफ्तार क्यों किया गया है? और अगर वो शख्स वाकई में संदेहास्पद है तो उसे छह महीने पहले उस वक्त क्यों नहीं गिरफ्तार किया गया जब उसने गुंजन खेमका को जान से मारने की धमकी दी थी.

आरजेडी प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने पटना एसएसपी मनु महाराज के प्रमोशन पर सवाल उठाते हुए कहा कि हत्या में अब तक कारणों का पता नहीं लगा पाई है लेकिन हत्याकांड के चार दिन बाद ही प्रमोशन दे दिया जा रहा है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!