बिहार सियासत में उपेंद्र कुशवाहा पर टिकी राजनीतिक पार्टियों की नज़र




केंद्रीय मंत्री और आरएलएसपी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा उनकी पार्टी की तरफ से दिए गए बयान से ऐसी अटकलें लगाई जा रही है कि वे बिहार में महागठबंधन का दामन थाम सकते हैं. हालांकि खुद कुशवाहा ये साफ कर चुके हैं कि वे नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहते हैं.

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी ने तीन सीटों पर जीत हासिल की थी. अब कुशवाहा की पार्टी का कहना है कि वक्त बदल चुका है, इसलिए उन्हें ज्यादा सीटें चाहिए. बता दें कि कुर्मी से ज्यादा बिहार में कोइरी की आबादी है.

भाजपा के नेता एक और सहयोगी उपेन्द्र कुशवाहा के एनडीए से निकलने का इंतज़ार कर रहे हैं वहीं अब कुशवाहा भी खुल कर सामने आ रहे हैं. … 2019 चुनाव से पहले बिहार में सीट बंटवारे को लेकर NDA के दो सहयोगी दलों में मतभेद भी होने ही खबर मीडिया में आ रही हैं.

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि बिहार में बीते कुछ सालों में उनका आधार बढ़ा है, यही वजह है कि वह बीजेपी से एनडीए में अधिक सीटों की मांग कर रहे हैं.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!