भाजपा नेता नरेश अग्रवाल के बेटे ने मंदिर के बाहर बांटी शराब की बोतलें




न्यूज़ एजेंसी एनआईए द्वारा साझा किए गए चित्र में खाने के पैकेट के साथ रखी शराब की बोतलें

भाजपा नेताओं के अजीबो गरीब कारनामे के बीच नेता पुत्र का एक कारनामा सामने आया है. भाजपा नेता नरेश अग्रवाल के बेटे की तस्वीर आई है जिसमें वह एक कार्यक्रम के दौरान मन्दिर के बाहर खाने के पैकेट साथ शराब की बोतलें बांटते दिखाई दे रहे हैं. न्यूज़ एजेंसी एएनआई ने इसे ट्वीट किया है.



मामला यूपी के हरदोई का है जहां पासी समाज की ओर से श्रवण देवी की मंदिर के एक समारोह में राज्य सभा सांसद नरेश अग्रवाल खुद समारोह में पहुंचे थे. उनकी मौजूदगी में उनके बेटा नितिन ने खाने के पैकेट्स में शराब की बोलतें रखकर वहां पहुंचे लोगों में बांटी. मामला का खुलासा तब हुआ, जब इन पैकेट्स की तस्वीरें मीडिया में आ गईं.

इस मामले पर हरदोई से भाजपा सांसद अंशुल वर्मा ने कहा, ‘मैं इसके बारे में पार्टी के उच्च नेतृत्व को जानकारी दूंगा. गलती सुधारने के लिए भाजपा को दोबारा से सोचना पड़ेगा.’

सांसद अंशुल वर्मा ने इस मामले पर सीएम योगी को खत लिखा है. उन्होंने इस मामले पर कार्रवाई करने की मांग की है. उन्होंने खत में लिखा है, ‘हमारी पार्टी जिस संस्कृति की दुहाई देती है, हमारे नवागंतुक सदस्य अग्रवाल उसे भूल गए हैं.’

साथ ही सांसद ने खत में लिखा है, ‘आज जब हमारी सरकार धर्म में आस्था दिखा रही है और देश के अंतिम व्यक्ति को मुख्य धारा में लाने के लिए प्रयास कर रही है. ऐसे समय में नरेश जी द्वारा हमारे पासी समाज का मजाक बनाकर जनपद की प्रख्यात शक्तिपीठ में शराब बांटने जैसा काम निंदनीय है. अगर पार्टी विरोधी ऐसी गतिविधियों को पार्टी गंभीरता से नहीं लेती है तो हमारे समाज के हितों के लिए हमें सड़क पर उतरना पड़ेगा और उनके सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा.’

बता दें, भाजपा नेता नरेश अग्रवाल मौका देखकर पाला बदलने के लिए जाने जाते हैं. उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के रहने वाले नरेश अग्रवाल सात बार विधायक चुने जा चुके हैं. उनके बेटे भी अखिलेश सरकार में मंत्री रह चुके हैं. 38 साल के राजनीतिक सफर में नरेश अग्रवाल चार बार पार्टियां बदल चुके हैं और एक बार अपना दल भी बनाया था. 1980 में वह पहली बार हरदोई से कांग्रेस के टिकट से विधायक चुने गए थे.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!