नज़रिया

आईटी ऐक्ट से लोगों की जासूसी यही है गुजरात मॉडल..?

नई दिल्ली : आईटी ऐक्ट से जुड़ी मीडिया में आ रही रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला बोला। सोमवार को कांग्रेस ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार इस देश में गैर संवैधानिक […]

नज़रिया

‘मौसम वैज्ञानिक’ ने बताया बदलते सियासी मौसम का हाल

-मनीष शांडिल्य पहले करीब डेढ़ महीने तक पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा बिहार एनडीए में सीट-बंटवारे को लेकर खींचतान करते रहे और फिर उपेन्द्र कुशवाहा के एनडीए से अलग होने के बाद इस मोर्चे पर केंद्रीय […]

2019 लोकसभा चुनाव

हिंदुत्व या विकास क्या होगा भाजपा का अजेंडा…?

नई दिल्ली : तीन राज्यों की सत्ता से बीजेपी के बेदखल होने के बाद जो सबसे बड़ी बहस होती दिख रही है, वह यह कि 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए बीजेपी का अजेंडा क्या […]

नज़रिया

राफ़ेल विमान सौदा: मोदी सरकार ने कोर्ट को गुमराह किया?

-मनीष शांडिल्य सुप्रीम कोर्ट द्वारा शुक्रवार को राफ़ेल विमान सौदे की जांच से जुड़ी सभी याचिकाएं ख़ारिज कर देने के बाद का घटनाक्रम अब तक रोलर कोस्टर की तरह रहा है. फैसला आते ही इसे […]

ख़बर की ख़बर

सेक्सुअल हैरसमेंट पर ICC की रिपोर्ट पर जेएनयू में नाराजगी

नई दिल्ली : JNU के टीचर पर सेक्सुअल हैरसमेंट के आरोप पर एक बार फिर प्रशासन और यूनियन की टकरार हो गई है। इसी साल अप्रैल में सामने आई एक स्टूडेंट की इस शिकायत पर […]

2019 लोकसभा चुनाव

यूपी में गठबंधन की बनती बिगड़ती रणनीति

नई दिल्ली : मायावती ने बुधवार की सुबह राजस्थान, मध्य प्रदेश में कांग्रेस के समर्थन का ऐलान किया, उसके आधे घंटे बाद ही अखिलेश का भी एमपी में समर्थन का ट्वीट आ गया। कांग्रेस भले […]

नज़रिया

क्या हैं कुशवाहा के नरम-गरम तेवर के मायने?

-मनीष शांडिल्य मुंगेर के पोलो मैदान में रालोसपा द्वारा 24 नवंबर को आयोजित हल्ला बोल दरवाजा खोल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था, “मैं ईमानदारी से कहना चाहता हूँ कि मैं एनडीए में हूँ […]

नज़रिया

शराबबंदी फेल होने की बात अफवाह है या हकीकत?

-मनीष शांडिल्य 2015 के विधानसभा चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री के रुप में नीतीश कुमार का सबसे महत्वाकांक्षी फैसला शराबबंदी का है जिसकी चर्चा वह शायद ही किसी भी उपयुक्त मंच से करने से चूकते […]

ओपिनियन

मीडिया के काम में मोदी सरकार की दखलअंदाजी का सबूत

ग्वालियर के एक निजी विश्वविद्यालय―आइटीएम में पिछले शनिवार यानी 24 नवंबर को जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने वहाँ की विधानसभा भंग करने को लेकर जो सफाई मीडिया को दी, वह आज बुधवार यानी 28 […]

नज़रिया

डिअर ट्विटर, निष्पक्षता का मतलब प्रगतिशीलता का विरोध नहीं होता

-मनीष शांडिल्य क्या ट्वीटर संयुक्त राज्य अमेरिका या दुनिया के किसी हिस्से में नस्लवाद समाप्त करने की मांग पर इसी तरह की प्रतिक्रिया देगा क्यूंकि दुनिया में तो ऐसे भी अनगिनत लोग होंगे जो नस्लवाद […]