बिहार: प्रेशर पॉलिटिक्स NDA पर पड़ रही भारी




पटना : पहले जीतन राम मांझी, फिर उपेंद्र कुशवाहा और अब क्या रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी भी क्या 2019 के चुनाव से पहले एनडीए का साथ छोड़ने के मूड में है ?

दरअसल संसदीय दल के नेता और जमुई से सांसद चिराग पासवान के दो ट्वीट को लेकर हुई, जिसमें उन्होंने एनडीए से नाराजगी और बीजेपी की तीन प्रदेशों में हार के बाद राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में असंतोष उभरने के संकेत दिए.

ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘टीडीपी और रालोसपा के एनडीए से जाने के बाद गठबंधन नाज़ुक मोड़ से गुज़र रहा है. ऐसे समय में भारतीय जनता पार्टी गठबंधन में फ़िलहाल बचे हुए साथियों की चिंताओं को समय रहते सम्मानपूर्वक तरीक़े से दूर करे.’



मांझी और कुशवाहा के एनडीए से जाने के ठीक बाद ही चिराग का ये ट्वीट इस बात का इशारा करती है कि एनडीए में प्रेशर पॉलिटिक्स जारी है और तीनों प्रदेशों में मिली हार के बाद एनडीए के घटक दल भी इस गठबंधन की लीड पार्टी बीजेपी पर प्रेशर बना रहे हैैं. चिराग के इस ट्वीट के कई मायने लगाए जा रहे है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!