अमेठी में राहुल के सामने भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ताओं में झड़प




राहुल गांधी (फ़ाइल फ़ोटो)

मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

लखनऊ, 15 जनवरी| कांग्रेस अध्यक्ष का पद संभालने के बाद राहुल गांधी सोमवार को पहली बार अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र अमेठी पहुंचे और उनके पहुंचने के साथ ही कांग्रेस व भाजपा कार्यकर्ताओं में झड़प हो गई। दोनों पक्ष सगरा तिराहे पर एक दूसरे से जोरदार तरीके से भिड़ गए। जिले के अधिकारियों व स्थानीय पुलिस को हालात को संभालने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।


विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशि शेखर से कहा-सुनी हो गई। इसके बाद सिंह ने पुलिस पर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी से संबद्ध ‘लुंपेन’ तत्वों का साथ देने और उनका संरक्षण करने का आरोप लगाया।

इसके बाद अतिरिक्त जोश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा समर्थकों को दौड़ाया और कथित तौर पर लाठी-डंडों से पीटा। यह सब राहुल गांधी की मौजूदगी में हुआ।

सलोन से भाजपा के विधायक दल बहादुर कोरी ने नाराज होते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले के बाद मुख्यमंत्री से पुलिस की शिकायत करने की धमकी दी।

बाद में राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की और राय बरेली के सलोन में उन्हें संबोधित किया।

राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और उन पर गरीबी उन्मूलन के लिए सिर्फ दिखावा करने का आरोप लगाया। राहुल ने कहा कि केंद्र व राज्य की सरकारें सिर्फ अमीर उद्योगपतियों के लिए काम कर रही हैं।

उन्होंने अपूर्ण परियोजनाओं के लिए प्रधानमंत्री को जिम्मेदार ठहराया और लोगों को जाति व धर्म के नाम पर भड़काने का आरोप लगाया।

कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा के विरोध के बावजूद वे सुनिश्चित करेंगे कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के दौरान मंजूर किए गए खाद्य पार्क को अमेठी में स्थापित किया जाए।

राहुल गांधी ने सलोन नगर पंचायत कार्यालय पर ‘खिचड़ी पूजा’ में भी हिस्सा लिया। हालांकि, इस दौरान स्थानीय व्यापारी कार्यालय के बाहर उनके खिलाफ नारे लगाते रहे।

इस सबके बाद कांग्रेस अध्यक्ष अमेठी के लिए रवाना हो गए। उनका कई जगहों पर फूलों से स्वागत किया गया और उनके समर्थन में नारेबाजी की गई।

–आईएएनएस

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!