सीए के जरिए राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता कर रही कांग्रेस : भाजपा




रवि शंकर प्रसाद (दायाँ) भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी के साथ

नई दिल्ली, 21 मार्च, 2018 (टीएमसी हिंदी डेस्क) | सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक पर राजनीतिक फायदे के लिए निजी डेटा का उपयोग करने के आरोपों के बीच, भाजपा ने बुधवार को कांग्रेस पर 2019 लोकसभा चुनाव अभियान के लिए कथित रूप से राजनीतिक डेटा विश्लेषक कंपनी कैंब्रिज एनालाइटिका(सीए) की मदद लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने का आरोप लगाया है। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने आरोप लगाया कि सीए को डेटा प्रकरण में संलिप्त पाया गया है और चेतावनी दी कि भारतीय चुनाव प्रक्रिया का दुरुपयोग करने के किसी भी प्रयास को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और सरकार इसपर जरूरी कानूनी कार्रवाई करेगी।



केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “अनुचित कार्यो के लिए फेसबुक समेत सोशल मीडिया का भारतीय चुनावी प्रक्रिया को छुपकर या खुले रूप से प्रभावित करने के किसी भी प्रयास की न तो इजाजत दी जाएगी और न ही बर्दाश्त किया जाएगा।”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने 2019 अभियान को चलाने के लिए जिस कंपनी सीए से मदद ले रही है, वह रिश्वत लेने, राजनीतिज्ञों को फसांने के लिए यौनकर्मियों का इस्तेमाल करने और फेसबुक से डेटा चुराने में संलिप्त रही है।

भाजपा नेता ने कहा, “फेसबुक समेत सोशल मीडिया का इस्तेमाल पारदर्शी चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित करने के लिए नहीं किया जा सकता। फेसबुक से हाल ही में डेटा चोरी की खबर के बीच मेरी सख्त चेतावनी अटलांटिक के पार सुदूर कैर्लिफोर्निया में लोग सुन लें।”

कांग्रेस पर वोट के लिए डेटा प्रकरण और चोरी पर निर्भर रहने का आरोप लगाते हुए प्रसाद ने कांग्रेस से पूछा कि क्या वह डेटा चोरी पर निर्भर है और सीए की सेवा लेने के पीछे क्या उसका एकमात्र मानक उसकी चोरी की क्षमता ही है?

मीडिया रपट के हवाले से भाजपा नेता ने कांग्रेस से यह भी स्पष्ट करने को कहा कि क्या निष्कासित सीए के सीईओ अलेक्जेंद्र निक्स से पार्टी के कई नेताओं ने चुनावी रणनीति बनाने के लिए मुलाकात की थी।

उन्होंने कहा, “यह भारत में करोड़ों ऑनलाइन यूजर्स के लिए चिंता का विषय है कि ऑनलाइन डेटा ब्राउजिंग पैटर्न का इस उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल हो रहा है। मैं विशेष तौर पर कांग्रेस को चेतावनी देना चाहता हूं कि देश इस तरह के डेटा प्रकरण या चोरी को बर्दाश्त नहीं करेगा।”

मंत्री ने कांग्रेस पर आरोपों की बौछार करते हुए कहा कि कांग्रेस को यह भी बताना चाहिए कि उसके पास सीए द्वारा चुराए गए कितने डेटा हैं और पार्टी द्वारा कितने भारतीय यूजर्स के डेटा सीए को दिया गया है।

उन्होंने कहा, “सीए को केन्या में राजनीतिक प्रक्रिया को पलटने के लिए डेटा चोरी का दोषी पाया गया है और कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए ऐसी ताकतों के साथ जुड़ी हुई है।”

प्रसाद ने कहा, “हमने यह गुजरात में देखा। हम देख रहे हैं कि वे लोग कर्नाटक में क्या कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि भारतीय यूजर्स की निजता उल्लंघन मामले की जांच के लिए सरकार अमेरिकी संघीय व्यापार आयोग और न्याय विभाग के संपर्क में है।

मंत्री ने कहा, “हम भारतीय यूजर्स के डेटा चोरी मामले में कंपनी और फेसबुक को समन जारी करेंगे।”

-आईएएनएस

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!