“बिहार में बहार है नितिशे कुमार है” का नारा अब “बिहार में एनडीए सरकार है चारो ओर हाहाकार है” में बदला




मुथूट फाइनेंस में लूट के बाद छान बीन करती पुलिस (फ़ोटो साभार: दैनिक भास्कर)

नीतीश कुमार का मशहूर नारा था बिहार में बहार है नितिशे कुमार है. अब लोग कह रहे हैं बिहार में एनडी सरकार है व्यापारी और आम आदमी लाचार है. ऐसा नारा बिहार की बेहद खराब स्थिति देखते हुए कहा जा रहा है.

आए दिन हत्या, लूट, छिना झपटी का बाज़ार गर्म है. चारो ओर हाहाकार है क्योंकि एनडीए की सरकार है यह भी कुछ लोग नारे लगा रहे हैं. कल अकेले लगभग 10 ऐसी बड़ी घटनाएं हुई हैं जिनसे बिहार की एक बार फिर से लॉ एंड आर्डर की पोल खुल गयी है.

मुजफ्फरपुर में दिन दहाड़े मुथूट फाइनेंस में डकैती

सदर थाना क्षेत्र के भगवानपुर स्थित मुथूट फाइनेंस कंपनी के कार्यालय में दिनदहाड़े घुसे छह अपराधियों ने बड़ी लूट काे अंजाम दिया है। पिस्टल के बल पर कर्मचारियों को कमरे में बंद कर दिया। मैनेजर काे घायल कर पांच बैग में भरे सोने के जेवरात व दो लाख रुपये लेकर भाग निकले।

जेवरात की कीमत लगभग पांच करोड़ बताई जा रही। एसएसपी मनोज कुमार, सिटी एसपी राकेश कुमार और सदर सहित अन्य थानाें की पुलिस मौके पर पहुंच गई।



मुथूट फाइनेंस कंपनी के कार्यालय में एकाउंट खोलवाने व ऋण लेने की बात कहते हुए दोपहर 12 बजे दो युवक पहुंचे। इसी दौरान कंपनी कार्यालय के बाहर चार अन्य अपराधी गार्ड मनोज कुमार को पीटने लगे। कार्यालय में काम कर रही एक महिला कर्मचारी ने सीसीटीवी कैमरे से गार्ड की पिटाई का दृश्य देखा तो शोर मचाना शुरू कर दिया।

शोर सुनकर चारों अपराधी गार्ड को छोड़ कार्यालय के अंदर घुस आए। मैनेजर विनय कुमार के सिर पर पिस्टल सटा लॉकर की चाबी मांगी। उन्होंने इन्कार किया तो पिस्टल के बट से प्रहार कर घायल कर दिया और लॉकर की चाबी ले ली। अन्य कर्मचारी विरोध में आए तो पिटाई करते हुए कार्यालय के अंदर के कमरे में बंद कर दिया

बदमाश लॉकर खोल दो लाख रुपये व पांच बैग में भरे सोने के जेवरात लेकर फरार हो गए। एसएसपी मनोज कुमार का कहना है कि भगवानपुर के मुथूट फाइनेंस कंपनी से दो लाख नकद व बड़ी मात्रा में ज्वेलरी की लूट की जानकारी मिली है। छानबीन की जा रही है।

10 लाख रंगदारी मांगी, नहीं दी तो हत्या

नवादा जिले के गोविन्दपुर थाना इलाके के थाली बाजार निवासी व सीमेंट व छड़ के व्यवसायी गोपाल साव के 13 वर्षीय भतीजे रिधेश्वर राज उर्फ पीयूष कुमार की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक डीपीएस की सातवीं कक्षा का छात्र था। वह सोमवार की शाम को अपने घर आया था।

अपराधियों की गोलीबारी में मारा गया मासूम (फ़ोटो: दैनिक भास्कर)

घटना के संबंध में मृतक छात्र के पिता व प्राथमिक विद्यालय, पुरैनी के शिक्षक रामरतन लाल ने बताया कि सोमवार की रात 2 बजे के आसपास अपराधियों ने उनके घर पर फायरिंग की। गोली चलने की आवाज सुनकर मृतक खिड़की से झांकने लगा। इस बीच अपराधियों ने उसके सिर में गोली मार दी, जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

मृतक के चाचा ने बताया कि 29 जनवरी को उनके मोबाइल पर 10 लाख की रंगदारी मांगी गई। पुलिस को इसकी सूचना दी गई। बताया गया कि पुलिस ने किसी प्रकार की कार्रवाई नही की। इसके बाद अपराधियों ने लगातार रंगदारी की मांग की। नहीं देने पर घटना को अंजाम दिया।

किशनगंज में पिता को बंधक बनाकर किशोरी से सामूहिक बलात्कार

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पिता को बंधक बनाकर बेटी से गाँव के ही छह दरिदों को सोमवार देर रात 2 बजे सामूहिक दुष्कर्म किया. बुधवार को पीडीता ने कोढ़ोवाड़ी पुलिस ने बयान दर्ज किया. इसके बाद पुलिस ने सभी आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी शुरू की. 19 वर्षीय पीडीता को मेडिकल जाँच के लिए किशनगंज सदर अस्पताल भेज दिया गया. एसपी कुमार आशीष ने घटनास्थल पर पहुँच कर पीड़ीत परिजन व ग्रामीणों से मामले की जानकारी ली.

घटना दिघलबैंक प्रखंड क्षेत्र के कोढ़ोवाड़ी थाना क्षेत्र के एक गाँव की है. पीडीता के पिता ने कहा कि गाँव के ही छह युवकों ने देर रात दरवाज़ा खटखटाया और पीने के लिए पानी माँगा. इसके बाद सभी ने उन्हें बंधक बना लिया. उन्हें और बेटी को आधा किलोमीटर ले गए और मेरे सामने ही सभी ने बेटी का बलात्कार किया. दरिंदों ने धमकी दी कि अगर किसी को जानकारी दी तो जान से मार देंगे. घटना के बाद पीडीता के हाथ में बंधी रस्सी खोली और घर लौटी. बुधवार को मामले की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी गयी. गैंगरेप का आरोप पड़ोस के फैज़ आलम (21 वर्ष), अब्दुल मन्नान (27), कालू (27), मो. कासिम (35), मो. तकसीर (24) व अंसार (35) पर लगाया गया है. आरोपियों में दो बिजली मिस्त्री का काम करते हैं.

चोर ने नोट गिरा दिखाकर उड़ाए 1.50 लाख रुपए

10 और 20 रुपए का नोट गिराकर दो युवक फर्नीचर फैक्ट्री मालिक प्रदीप कुमार सिंह की कार से बैग ले उड़े। बैग में डेढ़ लाख रुपए थे। घटना बुधवार की शाम कंकड़बाग थाना इलाके के तिवारी बेचर के सामने हल्दीराम के पास हुई। एक्सयूवी कार में उनका चालक चंदन बैठा था। खाजेकलां में रहने वाले प्रदीप परिजनों के साथ हल्दीराम में नाश्ता कर रहे थे। इसी बीच एक युवक कार के पास आया और चालक से कहा कि गाड़ी के नीचे 10 और 20 का नोट गिरा है। चंदन उसके झांसे में आ गया। वह कार से उतरा और नोट चुनने लगा। इतने में दूसरा शातिर आया और कार में रखे बैग को लेकर पल्सर बाइक से राजेंद्रनगर टर्मिनल की ओर फरार हो गया। बैग में रकम के साथ ही फैक्ट्री के कई कागजात थे। प्रदीप पटना सिटी व्यापार मंडल के अध्यक्ष भी हैं। सबलपुर में उनकी फैक्ट्री है। इस बाबत उन्होंने कंकड़बाग थाने में दो अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज करा दिया है। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पास में लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला। शातिरों की तस्वीर कैमरे में कैद हो गई है। एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि पुलिस शातिरों का सुराग लगाने में जुटी है।

शादी की मार्केटिंग करने निकले थे |प्रदीप ने बताया कि बेटे की शादी होने वाली है। भाई व अन्य परिजनों के साथ मार्केटिंग करने के लिए निकले थे। कार में चालक था। थोड़ी देर बाद चालक पहुंचा और कहा कि बैग लेकर एक युवक फरार हो गया है।

बिहार बना बाहरी राज्य के अपराधियों का अड्डा

पुलिस के अनुसार, इस काण्ड में तमिलनाडु गिरोह का हाथ हो सकता है. जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया है उससे कयास लगाया जा रहा है घटना के पीछे तमिलनाडु गिरोह का हाथ है। चालक को कार में अकेला देख यही गिरोह पटना में कई घटनाओं को अंजाम दे चुका है। यह गिरोह तमिलनाडु के त्रिचनापल्ली का है। वहां से आने के बाद ये अपराधी पटना के होटलों में कई दिनों तक रहते हैं, फिर अपराध कर फरार हो जाते हैं। एक गिरोह में आठ-दस युवक होते हैं, जो भीड़-भाड़ इलाकों में घूमते रहते हैं।

दुकानदार के घर से एक लाख नकद व एक लाख के गहने की चोरी

पीरबहोर थाने के बाकरगंज बजाजा रोड में चोरों ने दुकानदार सोनू कुमार केशरी के घर का ताला तोड़कर एक लाख नकद और एक लाख का गहना उड़ा लिया। घटना मंगलवार की देर रात की है। इस बाबत फास्ट फूड की दुकान चलाने वाले सोनू ने पीरबहोर थाने में केस दर्ज करा दिया है। दरअसल सोनू का मकान बन रहा है। इस वजह से वे पिछले हिस्से वाले मकान में रहने चले गए। इसी बीच चोरों ने अगले हिस्से के मकान का ताला तोड़ दिया और एक लाख कैश व एक लाख का गहना ले उड़े। बुधवार की सुबह जब सोनू जगे तो देखा कि ताला टूटा है।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*