गुजरात में होने जा रहा है पादने की प्रतियोगिता, सबसे बढ़िया जो पादेगा उसे मिलेगी ट्रॉफी




(प्रतीकत्मक चित्र)

मुंह से अच्छा बोलने की प्रतियोगिता को अभी राजस्थान के मुख्य मंत्री ने सराहा था जब एक लडके ने महात्मा गाँधी को एक शख्स नहीं बल्कि एक विचार बताया था. अब ऐसी ही एक प्रतियोगिता का आयोजन गुजरात के सूरत में होने जा रहा है जहाँ भाषण तो निकलेगा लेकिन मुंह से नहीं कहीं और से. और इस प्रतियोगिता में बेहतर करने वालों को ट्रॉफ़ी भी मिलेगी.

गुजरात के सूरत में पादने की एक अनोखी प्रतियोगिता (Fart Competition) होने जा रही है. रिपोर्ट के अनुसार, इस पद प्रतियोगिता को सूरत के यतिन सांगोई और मुल संघवी आयोजित करवा रहे हैं जो 22 सितम्बर को सूरत में होनी है.

इस पाद प्रतियोगिता में तीन श्रेणी में लोग प्रतिस्पर्धा करेंगे. तीन श्रेणी में लंबी पाद, ज़ोरदार पाद और सुरीली पाद शामिल हैं. गजब बात यह है कि इस पर सोशल मीडिया पर चर्चा भी शुरू हो गयी है.

कुछ लोग इस प्रतियोगिता की तुलना प्रथम मासिक और गर्भधारण उत्सव से कर रहे हैं. भारत विषमताओं का ऐसा देश है जहाँ कहीं तो मासिक और गर्भधारण की चर्चा करना भी गुनाह है वहीँ कहीं इसको लेकर उत्सव भी होते हैं.

इस पाद प्रतियोगिता में हरेक प्रतिभागी के पास 60 सेकंड होंगे. इस दौरान वह जजों के सामने जाएगा और अपनी पाद उन्हें सुनाएगा. जजों में एक स्थानीय डॉक्टर और स्टैंड-अप कॉमेडियन देवांग रावल होंगे. यतिन सांगोई ने बताया कि हम देश के सबसे अच्छे पादने वालों की खोज कर रहे हैं. प्रतिभागियों में से तीन विजेता चुने जाएंगे.

सांगोई ने मीडिया को बताया कि इस पाद प्रतियोगिता का उद्देश्य लोगों को खुल कर पादने के लिए प्रोत्साहित करना है. प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए 100 रुपए का शुल्क भी रखा गया और कई राज्यों से इस प्रतियोगिता में लोग शामिल होने की इच्छा ज़ाहिर कर रहे हैं.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*