दुनिया के सबसे बड़े प्रजातंत्र का उत्सव 11 अप्रैल से 19 मई तक, 23 मई को निर्णय होगा कि अच्छे दिन ऐसे ही रहेंगे या बेहतर होंगे, 4 राज्यों में भी साथ साथ विधान सभा चुनाव




चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा  आज शाम कर दी है. 7 चरणों में लोकसभा चुनाव की शुरुआत 11 अप्रैल से होकर 19 मई तक चलेगी और 23 मई को नतीजे आएंगे.

बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में चुनाव 7 चरण में होंगे.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने चुनाव तिथियों की घोषणा करते हुए कहा कि सभी एजेंसियों से राय ली गयी है. चुनाव खर्चे पर विशेष निगरानी रखी जाएगी. त्‍योहारों का ध्‍यान रखा गया है. उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में 90 करोड़ लोग वोट डालेंगे. इन 90 करोड़ में 1.5 करोड़ पहली बार मतदाता बने हैं यानी 1.5 करोड़ मतदाताओं की आयु 18 से 19 वर्ष के मध्य होगी.

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हम चुनाव के लिए काफी पहले से ही तैयारी कर रहे थे. सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के चुनाव आयुक्त से बात की. उन्हें तैयारी करने के लिए कह दिया गया था. लॉ एंड ऑर्डर की सिचुएशन भी जांची गई. यह सब करने के बाद ही आज हम चुनाव की घोषणा करने की स्थिति में हैं.

दिल्ली में अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य चुनाव आयोग ने कहा कि इस बार ईवीएम मशीनों की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखा जा रहा है. आज से ही आचार संहिता लागू हो गई है. किसी भी तरह की नियम उल्लघन पर कार्रवाई की जाएगी. सभी उम्मीदवारों को अपनी संपत्ति और शिक्षा का ब्यौरा देना होगा. फॉर्म 26 भरना होगा. उन्होंने कहा कि लाउड स्पीकर का इस्तेमाल रात 10 से सुबह 6 बजे तक बंद रखना होगा. हमारा फोकस ध्वनि प्रदूषण को कम करना है. सीआरपीएफ को बड़ी संख्या में तैनात किया जाएगा.

आन्ध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा और सिक्किम में विधान सभा चुनाव भी साथ साथ होंगे.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!