बिहार: नाथूराम गोडसे अमर रहें और जय हिन्दू राष्ट्र का नारा लगाने वालों ने धारा 370 को हटाए जाने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे नागरिकों पर किया हमला




पटना 5 अगस्त 2019 को भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा धारा 370 और 35 (a) को हटाए जाने के खिलाफ प्रतिवाद कर रहे पटना के नागरिकों पर भाजपा समार्थित कुछ लोगों की तरफ से हमला किया गया जिसमें कुछ लोगों को मामूली चोट आयी.

कारगिल चौक पर हो रहे शांतिपूर्ण प्रदर्शन में पटना के कई बुद्धिजीवी, प्रोफेसर, आम नागरिक और विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्ता मौजूद थे. एनएपीएम के आशीष रंजन ने बताया कि यह हमला तब हुआ जब कार्यक्रम अपनी समाप्ति की ओर था. उनहोंने बताया कि अचानक कुछ लोग आए और लाठी से प्रदर्शन कर रहे लोगों पर हमला कर दिया. उनके पास डंडे थे और उनहोंने अचानक हमें डंडे और घूंसों से पीटना शुरू कर दिया. इसके अतिरिक्त, महिलाओं के साथ भी बदसुलुकी की गयी.

इस हमले में कई लोग घायल हुए हैं. पटना के प्रतिष्ठित साहित्यकार सुमन्त शरण के माथा और नाक में चोट आई है उन्हें PMCH में फर्स्ट ऐड देकर छोड़ दिया गया. उनके अलावा, NAPM के आशीष रंजन झा, जन जागरण समिति की कामायनी, माले नेता प्रकाश कुमार और समाजसेवी अनिश अंकुर सहित कई लोगों को चोटें आई. इस हमले में किसी को गंभीर चोटें नहीं आईं.

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि यह पूरा घटनाक्रम पुलिस की उपस्थिति में हुआ लेकिन उसने नाथूराम गोडसे अमर रहें का नारा लगाने वालों और शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करने वालों की पिटाई करने वालों को गिरफ्तार करने का साहस नहीं कर पाई. बाद में, हमले के विरोध में प्रदर्शनकारियों ने कारगिल चौक से लेकर जेपी गोलंबर तक प्रतिवाद मार्च किया.

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि ‘पटना के लोग’ बैनर के तले कुछ लोग शांतिपूर्ण ढंग से धारा 350 के हटाए जाने के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे. तभी कुछ लोग भगवा गमछा पहने आए और गोडसे अमर रहे, जय हिन्दू राष्ट्र, कश्मीर हमारा है का नारा लगाने लगे. और इसके बाद इन्होंने ही शान्तिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों पर हमला किया. पुलिस चौकी रहने के बावजूद पुलिस ने उन पर कोई कार्रवाई नहीं की.

एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि चूँकि पटना का यह इलाका बहुत ही व्यस्त है इसलिए यह ज्यादा हिंसक नहीं हो सका.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*