भारत ने विश्वबैंक की मानव पूंजी सूचकांक रिपोर्ट को किया खारिज




भारत ने विश्वबैंक की मानव पूंजी सूचकांक रिपोर्ट को बृहस्पतिवार को खारिज कर दिया। इस रिपोर्ट में भारत को नेपाल, श्रीलंका, म्यामां और बांग्लादेश से भी नीचे 115वें स्थान पर रखा गया है।

यह विश्वबैंक की मानव पूंजी सूचकांक की पहली रिपोर्ट है। इसमें बच्चों के जीवित रहने की संभावना, स्वास्थ्य तथा शिक्षा जैसे पैमानों पर 157 देशों का आकलन किया गया है।

वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इस सूचकांक में भारत को मिला स्थान देश में मानव पूंजी के विकास के लिए उठाये गये प्रमुख मुहिमों को परिलाक्षित नहीं करता है।

मंत्रालय ने बयान में समग्र शिक्षा अभियान, आयुष्मान भारत कार्यक्रम, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना आदि का जिक्र करते हुए कहा कि सूचकांक तैयार करने में इनपर गौर नहीं किया गया है।

इस सूचकांक में सिंगापुर को पहला स्थान मिला है।

(साभार पीटीआई)

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!