चार्जशीट का ड्राफ्ट तैयार, कन्हैया कुमार के खिलाफ ठोस सबूत नहीं




नई दिल्ली : संसद हमले के दोषी अफजल गुरु को फांसी पर लटकाने के बाद 9 फरवरी 2016 को उसकी बरसी पर जेएनयू में आयोजित एक कार्यक्रम में देश विरोधी नारेबाजी के मामले में स्पेशल सेल ने चार्जशीट का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है।

जल्द ही कोर्ट में चार्जशीट दायर कर दी जाएगी। सूत्रों के मुताबिक पुलिस को तत्कालीन जेएनयू स्टूडेंट यूनियन के अध्यक्ष कन्हैया कुमार के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिला है। उन पर भी देश विरोधी नारेबाजी का आरोप है।



स्पेशल सेल के तमाम वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि वे नहीं जानते कि इस केस में चार्जशीट कब दाखिल की जाएगी। सूत्रों का कहना है कि कन्हैया कुमार के अलावा स्टूडेंट अनिर्बान और उमर खालिद को मुख्य आरोपी के तौर पर दिखाया जा रहा है। वहीं 8 अन्य स्टूडेंट के नाम भी इसमें शामिल हैं। मामले में कुछ और स्टूडेंट्स की संलिप्तता से इनकार नहीं किया जा सकता।

बताते चले कि 11 फरवरी 2016 में वसंत कुंज नॉर्थ पुलिस थाने में केस दर्ज किया गया था। इसे बाद में स्पेशल सेल को ट्रांसफर कर दिया गया था।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!