चहेते तमिल नेता करूणानिधि का 94 की आयु में देहांत




करूणानिधि के देहांत के बाद कावेरी अस्पताल के बाहर उनके समर्थकों की भीड़ (इनसेट में करूणानिधि)

 

तमिल नाडू के पांच बार मुख्य मंत्री रहे और द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम के नेता मुत्तुवेल करुणानिधि का आज चेन्नई के कावेरी अस्पताल में निधन हो गया. वह 94 वर्ष के थे.

सोमवार रात से ही करुणानिधि की स्थिति नाज़ुक बनी हुई थी. 28 जुलाई से ही करुणानिधि चेन्नई के कावेरी अस्पताल में भर्ती थे.

करुणानिधि की गंभीर स्थिति को देखते हुए आज सुबह से ही बड़ी संख्या में डीएमके समर्थक और कार्यकर्ता अस्पताल के बाहर इकट्ठा हो चुके थे. करूणानिधि के बेटे एक के स्टालिन ने कार्यकर्ताओं को शान्ति बनाए रखने की अपील की है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट में संवेदना प्रकट करते हुए कहा कि दुःख की इस घड़ी में करूणानिधि जी के परिवार और उनके अनगिनत समर्थकों के लिए मेरी संवेदनाएं. भारत और विशेषकर तमिल नाडू उन्हें बहुत याद करेगा. भगवान उनकी आत्मा को शान्ति दे.

राष्ट्रपति कोविंद ने भी ट्वीट कर करूणानिधि को श्रद्धांजलि दी. उनहोंने कहा कि “श्री एम करुणानिधि के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ। “कलैनार” के नाम से लोकप्रिय वह एक सुदृढ़ विरासत छोड़ कर जा रहे हैं जिसकी बराबरी सार्वजनिक जीवन में कम मिलती है। उनके परिवार के प्रति और लाखों चाहने वालों के प्रति मैं अपनी शोक संवेदना व्यक्त करता हूँ – राष्ट्रपति कोविन्द”

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट सन्देश में कहा कि “6 दशकों से अधिक समय तक कलासस की तरह तमिल राजनीति में अपना मकाम हासिल करने वाले तमिलवासियों के प्यारे कलैनार. उनके परिवार और करोड़ों भारतियों को मेरी संवेदना जो आज रात अपने प्रिय नेता के लिए शोकाकुल हैं. #Karunanidhi

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्य मंत्री उमर अब्दुल्लाह ने उनके देहांत पर कहा कि करूणानिधि अपनी जिंदगी में दिग्गज बने रहे और उनका व्यक्तित्व भारतीय राजनीति में असाधारण था. उनके जाने से न केवल उनके गृह राज्य की क्षति हुई है बल्कि यह पूरे देश की क्षति हैं जिसे भरा नहीं किया जा सकता है. उनके परिवार और तमाम तमिलवासियों को मेरी संवेदना.

करूणानिधि नास्तिक थे. उनकी अंतिम क्रियाकर्म का समय अभी तय नहीं है लेकिन पूरे भारत से नेताओं के पहुँचने का सिलसिला चेन्नई में शुरू हो गया है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!