मोदी का नया फ़रमान, मुस्लिम महिलाएं बिना ‘महरम’ हज यात्रा कर सकती




-द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

नई दिल्ली, 31 दिसम्बर, 2017| सरकार ने मुस्लिम महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए कानून में बदलाव लाते हुए वार्षिक हज यात्रा के लिए महिलाओं को बिनवा किसी पुरुष संरक्षक के यात्रा करने की अनुमति दे दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को यह कहा।



मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के 2017 के अंतिम संस्करण में रविवार को कहा, “मैंने देखा है कि अगर कोई मुस्लिम महिला हज यात्रा के लिए जाना चाहती है तो वह बिना ‘महरम’ (एक पुरुष संरक्षक) के नहीं जा सकती।”

उन्होंने कहा, “और जब मैंने इस बारे में पता किया तो मुझे पता चला कि वह हम लोग ही हैं, जिन्होंने महिलाओं के अकेले हज पर जाने पर रोक लगा रखी है। इस नियम का कई इस्लामिक देशों में अनुपालन नहीं किया जाता।”

मोदी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय ने यह प्रतिबंध हटा लिया है और अब मुस्लिम महिलाओं को बिना किसी पुरुष संरक्षक के हज यात्रा करने की अनुमति होगी।

प्रधानमंत्री ने कहा, “अब तक, 1,300 महिलाएं बिना महरम के हज यात्रा करने के लिए आवेदन कर चुकी हैं।”

उन्होंने कहा कि महिलाओं को पुरुषों की तरह समान अवसर मिलने चाहिए।

–आईएएनएस

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!