किसान कर्ज़ माफ़ी के बाद GST पर मोदी सरकार को फिर मिलेगा झटका




नई दिल्ली : किसानो के कर्ज माफ़ी के बाद कांग्रेस लोकसभा चुनाव में वर्तमान जीएसटी को ख़त्म करने की योजना पर काम कर रहे हैं। यही कारण है कि कांग्रेस पार्टी 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए अपने घोषणापत्र में एक संशोधित जीएसटी का वादा करने के लिए तैयार है।

पार्टी नेताओं का कहना है कि 2019 में केंद्र में अगर कांग्रेस की अगुवाई वाली सरकार आती है तो वह जीएसटी के वर्तमान मॉडल में बदलाव लेगी।

पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने नई दिल्ली में पार्टी के मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा “जीएसटी के वर्तमान डिजाइन में दोष हैं, और इस हद तक त्रुटिपूर्ण है मात्र छेड़छाड़ इसका समाधान नहीं है। 2019 में केंद्र की कांग्रेस सरकार जीएसटी की अगली पीढ़ी लाएगी।”



आपको बताते चलें कि हाल ही में केंद्र सरकार ने GST की दरों को कम किया है। हालांकि GST पर राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी की पुरानी रार है। मोदी सरकार GST लागू कराने की अपनी इच्छाशक्ति पर गर्व करती है, वहीं कांग्रेस इसे ‘गब्बर सिंह टैक्स’ बताती है। नवंबर 2017 में गुजरात चुनाव के दौरान दोनों नेताओं ने GST को लेकर एक-दूसरे पर खूब हमले किए थे।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!