बिहार चुनाव: लालू पुत्र द्वारा दुत्कारे गए सन ऑफ़ मल्लाह को मिला अपने पुराने घर में अनार




सन ऑफ़ मल्लाह के नाम से खुद को चर्चित बनाने वाले मुकेश सहनी महागठबंधन का होटल मौर्या में हुआ प्रेस कांफ्रेंस इतना ख़राब लगा कि वह बीच में उठ कर चल दिए और कार्यकर्त्ता को इशारा मिल गया कि तेजस्वी यादव मुर्दाबाद का नारा लगाते रहें.

मुकेश सहनी ने कहा कि तेजस्वी ने पीठ में छुरा घोंप दिया. यह अलग बात है कि किसी ने पीठ से निकलते खून नहीं देखा. अब उनके चेहरे पर ख़ुशी ज़रूर दिख रही है. उन्हें सुशील मोदी ने अपने कोटे का 11 अनार देने का घोषणा किया है.

बिहार भाजपा अध्यक्ष संजय जयसवाल ने कहा, ”NDA में निर्णय हुआ है कि मांझी जी को जदयू जगह देंगे और मुकेश सहनी को हमने 11 सीट (अनार) देने का फैसला किया है. चुनाव बाद एक विधान परिषद वाले बाग़ का अनार (सीट) भी वीआईपी को दिया जाएगा.”

वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा, ”मैने पहली बार जब राजनीति में कदम रखा तो नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने में काफी मदद की. 2018 में मैं महागठबंधन का अंग बना, हमें वहां धोखा मिला. इस चुनाव में भी मुझे छ्लने का काम किया, मेरे पीठ में खंजर घोपा गया सो वहां से हमलोग ने नाता तोड़ लिया. अब खुशी है कि जहां से राजनीति शुरु की वहां लौट आया. नीतीश कुमार को फिर से मुख्यमंत्री बनाना है.”

चलिए अनार मिल गया न कोई भी दे! अब जिसका अनार खाएंगे उसी को जिताएंगे न, वरना सत्ता के बिना अनार भी बीमारी ठीक से ठीक कहाँ करता है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!