मुस्लिम समाज को नीतीश कुमार का सन्देश, कहा- वोट जहां देना हो दीजिये




सोमवार को एक कार्यक्रम में नीतीश ने कहा कि ‘राजनीतिक रूप से जहां वोट करना हो कीजिएगा, उसकी चिंता नहीं हैं लेकिन हमने साम्प्रदायिक तत्वों, भ्रष्टाचार और अपराध से कभी समझौता नहीं किया.’

नीतीश अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की नयी योजनाओं का शुभारंभ कर रहे थे. अपने भाषण में उन्होंने अपने सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं का बखान करते हुए बार-बार याद दिलाया कि जब से उनके नेतृत्व में बिहार में सरकार चल रही है, भले उनके साथ कोई रहे, काम में कोई कमी नहीं आने दी और ना किसी प्रकार का समझौता किया.

इस भाषण में नीतीश के तेवर से साफ़ झलका कि वो ये आभास कराना चाहते हैं कि मुस्लिम समुदाय में अपने प्रति एक अविश्वास के माहौल से भली भांति परिचित होने के बावजूद वो कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. उन्होंने कहा कि ‘आपकी जवाबदेही मेरी है और ये मेरा दायित्व है. आप लोगों को मुख्य धारा में लाने के लिए अगर और योजनाओं को शुरू करना है तो बताइये, हम शुरुआत करेंगे.’

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!