पटेल ने लोगों को ‘एक राष्ट्र’ के रूप में एकजुट किया : मन की बात में मोदी




मन की बात का 37वां एपिसोड

-द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

नई दिल्ली, 29 अक्टूबर | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल ने लाखों भारतीयों को ‘एक राष्ट्र, एक संविधान’ के अंतर्गत लाना सुनिश्चित किया और एकता और देशभक्ति का उनका संदेश ‘न्यू इंडिया’ (नया भारत) के लिए एक प्रेरणा है। अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में मोदी ने सरदार पटेल को श्रद्धांजलि दी, जिनकी 31 अक्टूबर को जयंती है। उन्होंने कहा कि पटेल ने ‘आधुनिक, संयुक्त भारत’ की आधारशिला रखी।



मोदी ने भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को भी याद किया, जिनकी 14 नवंबर को जयंती है, जिसे बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है और उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को भी याद किया, जिनकी 31 अक्टूबर को पुण्यतिथि है।

मोदी ने कहा कि सरदार पटेल ने न केवल क्रांतिकारी विचार दिए, बल्कि भारत की आजाद के बाद ज्यादा जटिल समस्याओं का समाधान ढूढ़ते हुए उसे क्रियान्वित भी किया।

मोदी ने कहा, “एक विचार को वास्तविकता में बदलना उनकी खूबी थी। सरदार पटेल ने भारत को एकसूत्र में पिरोने का जिम्मा लिया। उन्होंने लाखों भारतीयों को एक राष्ट्र व एक संविधान के अंतर्गत लाना सुनिश्चित किया।”

मोदी ने कहा कि पटेल ने सौहाद्र्र और देशभक्ति को बढ़ावा दिया।

उन्होंने कहा, “सरदार साहब के ये आदर्श हमारे एक नए भारत के नजरिए से प्रासंगिक और प्रेरणास्पद हैं, इसलिए उनकी जयंती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाई जाती है।”

-आईएएनएस

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!