प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बायोपिक पर रोक, नहीं होगी रिलीज़ कल




फाइल फ़ोटो

पीएम मोदी बायोपिक 11 अप्रैल को रिलीज नहीं होगी. चुनाव आयोग ने फिल्म की रिलीज पर रोक लगा दी है. ये फिल्म 11 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के पहले चरण के वोटिंग के दिन होनी थी, जिसको लेकर तमाम राजनीतिक पार्टियों ने ऐतराज जताया था, कांग्रेस समेत दूसरी विपक्षियों पार्टियों का आरोप है कि ये फिल्म बीजेपी और पीएम मोदी के प्रचार के लिए बनाई गई है.

इससे पहले मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में पीएम नरेंद्र मोदी की बायोपिक की रिलीज पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान CJI ने दखल देने से इनकार कर दिया था. उन्होंने कहा कि ये सीबीएफसी और चुनाव आयोग का मामला है. कोर्ट के पास और दूसरे काम भी हैं, वहीं CJI ने चुनाव आयोग को फिल्म को कोई फैसला लेने का आदेश देने से भी इनकार कर दिया है.

कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने इस फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. सुप्रीम कोर्ट में फिलहाल सुनवाई के दौरान सिंघवी ने कोर्ट में कहा कि फिल्म के ट्रेलर को देखकर लग रहा है कि ये फिल्म बीजेपी का प्रोपगेंडा है. सिंघवी ने CJI को ट्रेलर देखने के लिए कहा तो उन्होंने इनकार कर दिया.

सेक्शन 126 (1) रिप्रजेंटेटिव ऑफ द पिपल एक्ट (Representation of the People Act) के तहत पीएम मोदी की बायोपिक पर रोक लगाई गई है. इसके तहत बताया गया है कि किसी भी तरह का चुनावी कंटेंट, चाहे वो सिनेमा के जरिए हो, टीवी के जरिए या फिर ऐसे किसी माध्यम से प्रसारित नहीं किया जा सकता है.

इससे पहले चुनाव आयोग पर पक्षपात का आरोप लगता रहा था. NaMo टीवी को लेकर भी चुनाव आयोग पर आरोप लगा कि वह भाजपा के आचार संहिता उल्लंघन को लेकर बहुत गंभीर नहीं है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!