रोहित वेमुला पढ़ना चाहता था, लेकिन उसे कुचल दिया : राहुल गाँधी




कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दलित आंदोलन के दौरान हिंसा भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि रोहित वेमुला पढ़ना चाहता था, लेकिन उसे दबाकर कुचल दिया गया।

राहुल गांधी मध्यप्रदेश के ग्वालियर संभाग के दतिया जिले में अपने दो दिवसीय के पहले दिन जनसभा को संबोधित करते हुए कहा। गांधी ने कहा कि दलितों के दिल में दर्द है, रोहित वेमुला पढ़ना चाहता था, लेकिन उसे कुचल दिया गया। वहीं महिला सुरक्षा पर भी प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि मध्यप्रदेश में महिलाओं के दिल में घबराहट है।



हैदराबाद विश्वविद्यालय के दलित छात्र रोहित वेमुला ने वर्ष 2016 में आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में तत्कालीन मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति इरानी का भी नाम सामने आया था। दो अप्रैल को देश भर में हुए दलित आंदोलन के दौरान मध्यप्रदेश के ग्वालियर समेत भिंड और मुरैना में खासी हिंसा हुई थी।

उन्होंने केंद्र सरकार पर विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को पैसे देने का आरोप लगाते हुए कहा कि वही पैसा कांग्रेस सरकार युवाओं को बिजनेस खोलने के लिये देगी।

जनसभा में मौजूद लोगों से कांग्रेस को वोट देने की अपील की, अपने दो दिवसीय प्रवास के दौरान ग्वालियर और चंबल संभाग में छह जनसभाओं को संबोधित करने के साथ चार रोड शो करेंगे।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!