मासिक धर्म में खाना बनाने वाली महिलाएं कुतिया और खाने वाले मर्द अगले जन्म में बैल बनेंगे:स्वामी कृष्णस्वरूप




गुजरात के एक धार्मिक नेता ने कहा है कि मासिक धर्म के समय पतियों के लिए भोजन बनाने वाली महिलाएं जहां अगले जन्म में ‘कुतिया’ के रूप में जन्म लेंगी तो वहीं उनके हाथ का बना भोजन खाने वाले पुरुष बैल के रूप में पैदा होंगे. यह बयान स्वामीनारायण मंदिर से जुड़े स्वामी कृष्णस्वरूप (Swami Krushnaswarup) ने दिया. अपने इस बयान के बाद से ही वह लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं.

स्वामी कृष्णस्वरूप (Swami Krushnaswarup) ने वीडियो में पर कहा, “यह पक्का है कि यदि पुरुष मासिक धर्म के चक्र से गुजर रहीं महिलाओं के हाथ का बना खाना खाते हैं तो वे अगले जन्म में बैल बनेंगे. यदि आपको मेरे विचार पसंद नहीं आते तो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. लेकिन यह सब हमारे शास्त्रों में लिखा है.

यदि मासिक धर्म के समय महिला अपने पति के लिए खाना बनाती है तो वह अगले जन्म में ‘कुतिया’ बनेगी.” उन्होंने आगे कहा, “महिलाओं को पता नहीं होता कि मासिक धर्म का समय तपस्या करने जैसा होता है. हालांकि मैं आपको ये सब चीजें बताना नहीं चाहता, लेकिन मैं आपको आगाह करता हूं. पुरुषों को खाना बनाना सीखना चाहिए…इससे आपको मदद मिलेगी.”

इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बॉलीवुड डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने ट्वीट किया जिसमें लिखा “ऐसा होगा हिन्दू राष्ट्र, चाहिए”?

Read this story in English.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!