बिहार: NDA पार्टियों के बीच सीट का बंटवारा तय, गिरिराज सिंह नवादा से तड़ीपार




बिहार में भाजपा जदयू और लोजपा के साथ गठबंधन में है और तीनों क्रमशः 17, 17 और 6 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी

बिहार में एनडीए पार्टियों भाजपा (BJP), जदयू (JD-U) और लोजपा (LJP) के बीच सीटों का बंटवारा तय हो गया. नवादा से गिरिराज सिंह का जगह बदला गया वहीँ कई और ने अपनी जगह बदली है.

भाजपा (BJP), जदयू (JD-U) और लोजपा (LJP) की साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बारे में जानकारी दी गयी. बिहार की 40 सीटों में भाजपा और जदयू (JD-U) 17-17 पर लड़ेंगे तो लोजपा 6 सीट पर लड़ेगी.

भारतीय जनता पार्टी बेतिया, मोतिहारी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, उजियारपुर, दरभंगा, मधुबनी, अररिया, बेगूसराय, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, छपरा, महाराजगंज, आरा, बक्सर, सासाराम और औरंगाबाद सीट से चुनाव लड़ेगी.

जदयू वाल्मीकिनगर, सीतामढ़ी, झंझारपुर, मधेपुरा, सुपौल, पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, भागलपुर, मुंगेर, गोपालगंज, सिवान, बांका, काराकाट, नालंदा, जहानाबाद और गया से चुनाव लड़ेगा.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में जेडीयू की तरफ से वशिष्ट नारायण, बीजेपी की ओर से नित्यानंद राय और एलजेपी से पशुपति कुमार पारस साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए.

रामविलास पासवान की पार्टी वैशाली, हाजीपुर, समस्तीपुर, खगड़िया, जमुई, नवादा से लड़ेगी.

भागलपुर से शहनवाज हुसैन का टिकट कटा तो नवादा से गिरिराज सिंह हुए तरीपाड़

इस लिस्ट से यह साफ है है कि इस बार बिहार के भागलपुर की सीट से बीजेपी के शहनवाज हुसैन नहीं होंगे. इस सीट पर जदयू चुनाव लड़ेगी. इस सीट पर पिछली बार शाहनवाज हुसैन भाजपा के उम्मीदवार लेकिन वह चुनाव हार गए थे. ऐसा कहा जाता है कि आरएसएस ने शाहनवाज़ हुसैन के खिलाफ अपने कार्यकर्ताओं को वोट करने को कहा था.

वहीँ नवादा से भी मौजूदा सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को तरीपाड़ कर दिया गया है. नवादा की सीट राम विलास पासवान की पार्टी लोजपा के हिस्से में आई है. यहां से फिलहाल मुंगेर से सांसद विना सिंह लड़ेंगी. वीना सिंह बिहार के बाहुबली और पूर्व सांसद सूरजभान सिंह की पत्नी हैं. सूरजभान सिंह को हत्या के मामले में कोर्ट सज़ा सुना चुकी है. इसके अलावा वह कई और संगीन मामलों में आरोप हैं.

गिरिराज सिंह को भाजपा बेगुसराय से टिकट दे सकती है जहाँ उनका मुकाबला कन्हैया कुमार से हो सकता है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!