लखनऊ नगर निगम की सबसे युवा पार्षद बनीं शादिया रफीक




चित्र साभार: फेसबुक

-द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

लखनऊ (उत्तर प्रदेश), 1 दिसम्बर, 2017 । लखनऊ निकाय चुनाव में वार्ड 34 तिलकनगर से 23 वर्षीय निर्दलीय प्रत्याशी शादिया रफीक ने रिकॉर्ड जीत दर्ज की है। इसी के साथ वह लखनऊ की सबसे कम उम्र की पाषर्द बन गई हैं। शादिया ने भाजपा की अर्चना द्विवेदी को करीब 535 वोटों के अंतर से हराया, शादिया को कुल 3,170 वोट मिले हैं।


वार्ड 34 तिलकनगर से कांग्रेस से रफीक अहमद 1989 में पार्षद बने थे। इसके बाद यह महिला सीट हो गई तो कोई चुनाव नहीं लड़ा। 2012 में फिर रफ़ीक का बेटा आदिल अहमद चुनाव लड़ा और निर्दलीय जीता। इसके बाद फिर परिसीमन में महिला वार्ड हुआ तो सभी ने तय किया कि शादिया चुनाव लड़े।

शादिया रफीक एमिटी यूनिवर्सिटी से मास कॉम की छात्रा हैं। शादिया ने कहा कि बचपन से ही पापा को राजनीति में देखा और समझा है, इसलिए कुछ भी नया नहीं लगा। वार्ड की सबसे बड़ी समस्या पीने के पानी की थी। लोगों की नब्ज समझी और इसी में सुधार के लिए वोट मांगा। दिन-रात मेहनत की और जनता ने भरोसा जताया। शादिया ने कहा कि सीवर भी क्षेत्र की बड़ी समस्या है, इसके समाधान का प्रयास करूंगी।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!