‘मुझे रोका नहीं जा सकता, मैं गुस्सा हूं लेकिन डरा नहीं’ : नसीरूद्दीन शाह




हाल में नसीरूद्दीन शाह ने बुलंदशहर की घटना का हवाला देते हुए कहा था कि उन्हें अपने बच्चों के लिए डर लगता है. कभी कोई भीड़ उन्हें घेर देगी और उनसे सवाल पूछेगी की वो हिन्दू हैं या मुस्लिम. फिर उनके पास जवाब नहीं होगा. जिसके बाद सोशल मीडिया पर उन्हें लगातार ट्रोल किया जा रहा है.

हालांकि अपने बयान को लेकर सोशल मीडिया पर नसीरूद्दीन शाह ने ट्रोलर्स पर पलटवार किया है. ट्रोल करने वालों को जवाब देते हुए नसीरूद्दीन शाह ने कहा है कि मुझे रोका नहीं जा सकता, मैं गुस्सा हूं लेकिन डरा नहीं हूं.



वहीँ ख़बरों की माने तो नसीरूद्दीन शाह ने पुलिस की सुरक्षा लेने से मना कर दिया है. मुंबई पुलिस ने उन्हें सुरक्षा लेने की पेशकश की थी. पुलिस को शक है कि कुछ लोग उनके घर के बाहर विरोध प्रदर्शन कर सकते हैं.

दरअसल नसीरूद्दीन शाह ने इंटरव्यू में कहा, ‘मुझे अपने बयान पर खेद नहीं है. मैं ये भी नहीं कहता कि मुझे मिसकोट किया गया. मैं डरा नहीं हूं, लेकिन गुस्से में हूं. पहले मॉब लिंचिंग नहीं होती थी. आजकल ये चीजें हो रही हैं. मैं अपनी चिंता व्यक्त कर रहा हूं. मैं अपने बच्चों के लिए परेशान हूं. मैं बतौर मुस्लिम इंसिक्योर नहीं हूं.’

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!