व्यंग

बिहार के बेचारे गरीब और क़र्ज़दार मंत्री

-समीर भारती जितना गरीब बिहार है उससे अधिक गरीब बेचारे यहाँ के मंत्री हैं. इतने गरीब कि किसी के पास तो 50 हजार रुपए नकदी भी नहीं हैं. और हम समझते हैं कि इन मंत्रियों […]

बिहार

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र का राजकीय सम्मान बना मज़ाक, 21 बंदूकों की सलामी में एक भी गोली नहीं चली

बिहार के तीन बार से रहे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ जगन्नाथ मिश्रा का देहांत दिल्ली में सोमवर को हो गया. देहांत के समय वह बीमार थे और चारा घोटाला के तीन मामलों में सजायाफ्ता थे. उन्हें […]

बिहार

प्रशांत किशोर क्यों मिले थे उद्धव ठाकरे से, क्या था प्लान, पढ़िए चौंकाने वाला सच

नीतीश कुमार के कमांडर इन चीफ और जद-यू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर का शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मिलना बहुत ख़ास था. यह ख़ास था यह तो मिलने से पता चल ही गया. क्योंकि […]

बिहार

देर से ही सही, तेजस्वीं यादव ने पूछा सही सवाल, ‘आठ लाख रुपये सालाना कमाने वाला गरीब कैसे’

पटना (बिहार): देर से ही सही तेजस्वी यादव ने सवर्ण आरक्षण को लेकर सही सवाल पुछा. तेजस्वी यादव ने गुरुवार को पटना में आयोजित कर्पूरी ठाकुर जयंती पर आयोजित पार्टी की एक सभा को संबोधित […]

पटना

लोकतंत्र को बचाने के लिए कहीं नीतीश कुमार फिर न पलटी मार दें: शिवानन्द तिवारी

राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री और राज्य सभा सांसद शिवानन्द तिवारी ने बिहार के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार को उनके समाजवादी टर्न पर आज आड़े हाथो लिया. शिवानन्द तिवारी ने मीडिया […]

नज़रिया

क्या हैं कुशवाहा के नरम-गरम तेवर के मायने?

-मनीष शांडिल्य मुंगेर के पोलो मैदान में रालोसपा द्वारा 24 नवंबर को आयोजित हल्ला बोल दरवाजा खोल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा था, “मैं ईमानदारी से कहना चाहता हूँ कि मैं एनडीए में हूँ […]

नज़रिया

शराबबंदी फेल होने की बात अफवाह है या हकीकत?

-मनीष शांडिल्य 2015 के विधानसभा चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री के रुप में नीतीश कुमार का सबसे महत्वाकांक्षी फैसला शराबबंदी का है जिसकी चर्चा वह शायद ही किसी भी उपयुक्त मंच से करने से चूकते […]

नज़रिया

बिहारः नेताओं की गिरफ्तारी की बजाय सरेंडर क्यों?

-मनीष शांडिल्य सुर्खियों में लगातार बने हुए एक और ऐसे मामले में बिहार पुलिस आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई जिसमें अभियुक्त किसी दल के नेता थे. ताजा मामला बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा […]

विशेष

सुशासन बाबू और माफियाओं के चक्रव्यूह में फंसा आज का अभिमन्यु

-श्यामाकांत झा पहले तबादला, फिर पदावनति, निलंबन और अब समय पूर्व सेवा निवृत्ति की सज़ा मिली एक कर्मठ, निर्भीक और बेबाक वरीय आईपीएस ऑफिसर अमिताभ दास को. सज़ा तो गुनाह का होता है. बकौल अमिताभ […]

बिहार

मोदी की आलोचना देश की आलोचना नहीं: राजदीप सरदेसाई

  राजदीप सरदेसाई ने कहा कि आज आप सिनेमा में राष्ट्रगान के समय खड़े हो जाइए यही देशप्रेम है चाहे आपका अकाउंट स्विस बैंक में ही क्यों न हो. आप राष्ट्रगान में खड़े हो गए […]