नज़रिया

जिन्हें रमज़ान में वोट नहीं देना वह इस रमज़ान स्विटज़रलैंड चले जाएं

-मोहम्मद मंसूर आलम आज से लगभग दस साल पहले की बात है. मैं पटना में एक रिक्शे पर सवार होने के लिए रिक्शे वाले से अपने गंतव्य स्थान जाने को पूछा. उसने बड़ी बेरुखी से […]