नज़रिया

शराबबंदी फेल होने की बात अफवाह है या हकीकत?

-मनीष शांडिल्य 2015 के विधानसभा चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री के रुप में नीतीश कुमार का सबसे महत्वाकांक्षी फैसला शराबबंदी का है जिसकी चर्चा वह शायद ही किसी भी उपयुक्त मंच से करने से चूकते […]

बिहार

बिहार के जेलों में बंद कैदियों रिहाई का रास्ता हुआ साफ

बिहार कैबिनेट ने करीब दो साल पहले पूर्ण शराबबंदी कानून को लागू किया था। इस कानून के तहत न्यूनतम तीन साल तक जेल की सजा मुकर्रर की गई है। यहाँ तक की बिहार पुलिस को […]