मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बैठक का एजेंडा जारी




ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की 16 दिसंबर को लखनऊ के नदवा कॉलेज में होने वाली कार्यकारिणी बैठक के लिए एजेंडा जारी कर दिया गया है। नमाज के लिए मस्जिद जरूरी नहीं है, के मुद्दे पर इस्माइल फारूकी के केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बोर्ड की लीगल कमेटी इस बैठक में रिपोर्ट पेश करेगी और इस संबंध में आगे की रणनीति तय की जाएगी।

राम जन्म भूमि और बाबरी मस्जिद की जमीन के मालिकाना हक के लिए सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन मुकदमे पर भी लीगल कमेटी अपनी रिपोर्ट पेश करेगी और शुरू होने वाली सुनवाई पर मुस्लिम पक्ष की तैयारियों पर भी गौर किया जाएगा।

इस मुकदमे के मुस्लिम पक्षकारों की पैरवी मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड कर रहा है। एक बार में तीन तलाक पर केन्द्र सरकार के अध्यादेश का मुकाबला करने के लिए रणनीति बनाने पर भी बोर्ड की बैठक में विचार किया जाएगा।



सामाजिक जागरूकता के लिए बोर्ड नेतृत्व की ओर से चलाई जा रही मुहिम इस्लाह-ए-मुआशरा के तहत गैर शरई रस्मो-रिवाज के खिलाफ आम मुसलमानों को जागरूक करने के उपायों पर भी बैठक में चर्चा की जाएगी। बोर्ड के आगामी 27वें आम इजलास की तारीख और इसके स्थान के बारे में भी निर्णय लिया जाएगा।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!