कुशीनगर हादसा : 13 बच्चों की मौत




लखनऊ (उत्तर प्रदेश), 26 अप्रैल, 2018 (टीएमसी हिंदी डेस्क) | उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के मानव रहित दुदही रेलवे क्रासिंग पर गुरुवार सुबह सिवान-गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन की स्कूली बच्चों से भरी वैन से टक्कर हो गई, जिसमें कम से कम 13 बच्चों की मौत हो गयी जबकि 4 अन्य घायल हो गए।



पुलिस के मुताबिक, “स्कूल वैन के ट्रेन की चपेट में आने से कम से कम 13 बच्चों की मौत हो गई है और 5 बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। स्कूल की वैन में 18 बच्चे सवार थे। घटनास्थल पर राहत व बचाव कार्य जारी है।”

राज्य के कुशीनगर के डिवाइन मिशन स्कूल की वैन गुरुवार सुबह स्कूल जा रही थी, इसी बीच मानव रहित क्रॉसिंग पर सिवान-गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन से वैन की टक्कर हो गई। उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री आदित्य नाथ ने स्कूल वैन के चालक पर आरोप लगाया कि वह गाड़ी चलाते समय ईअरफ़ोन लगा कर गाना सुन रहा था। गाड़ी का चालक भी इस हादसे में बुरी तरह घायल है।

मुख्यमंत्री ने मृतकों और घायल बच्चों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। गोरखपुर के कमिश्नर को इस हादसे की जांच के आदेश दिए गए हैं।

उत्तर पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के मुताबिक, “हादसा कुशीनगर जिले के दुदही रेलवे स्टेशन के पास एक मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर गुरुवार सुबह सात बज कर दस मिनट पर हुआ। बच्चों को स्कूल लेकर जा रही एक वैन सिवान गोरखपुर पैसेंजर ट्रेन (55075) की चपेट में आ गई। दुर्घटना में कम से कम 13 बच्चों की मौत हुई है। ये बच्चे डिवाइन पब्लिक स्कूल के छात्र थे।”

रेल बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने कहा कि रेलवे “मानवरहित रेलवे क्रासिंग को हटाने” के लिए प्रतिबद्ध है लेकिन लोगों को मानवरहित क्रासिंग पार करते समय ध्यान रखना चाहिए।

“असल में, लोगों को ध्यान रखना होगा। इसका कोई विकल्प नहीं है। हम ऐसा कुछ नहीं कर सकते जिसमें ग़लती की संभावना ही न हो।“ लोहानी ने कहा।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इस घटना पर दुख जताते हुए कहा, “इस मामले में वरिष्ठ अधिकारियों को जांच के निर्देश दिए गए हैं। रेलवे मृतकों के परिवारों को 2-2 लाख रुपये का अतिरिक्त मुआवजा देगी।”

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!