छग : अटल चौक पर गांधी की मूर्ति लगाने की कोशिश, 26 गिरफ्तार




धमतरी (छत्तीसगढ़), 2 अक्टूबर । नगर पंचायत भखारा के वार्ड क्रमांक 7 में स्थित अटल चौक पर गांधी जयंती के मौके पर सोमवार को महात्मा गांधी की मूर्ति लगाने पहुंचे पूर्व विधायक लेखराम साहू सहित 26 कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

इस चौक पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मूर्ति पहले से स्थापित है। कुरुद के एसडीओपी ठाकुर ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेसियों की गिरफ्तारी को लेकर भखारा में रोष है। बापू की प्रतिमा भखारा थाने में रखी गई है।



एसडीओपी ने कहा कि भखारा नगर पंचायत वार्ड क्रमांक 7 में कांग्रेसियों ने जहां पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा की स्थापना की कोशिश की, उसे अटल चौक के नाम से जाना जाता है। इस चौक पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मूर्ति भी पहले से बनी हुई है।

नगर पंचायत सीएमओ के मुताबिक, इस स्थान के सौंदर्यीकरण के लिए 9 लाख रुपये की स्वीकृति भी शासन से मिली है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर कांग्रेस के कार्यकर्ता करीबन तीन क्विंटल वजनी प्रतिमा तैयार कर लाए थे। महात्मागांधी की मूर्ति स्थापना गोपनीय तौर से होने की भनक पुलिस और प्रशासन तक पहुंची। तब पुलिस की बड़ी टीम ने अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचकर कांग्रेसियों को रोका। कांग्रेसियों के उग्र प्रदर्शन से अशांति जैसी स्थिति निर्मित हो गई।

पुलिस ने इस मामले में पूर्व विधायक लेखराम साहू, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष भरत नाहर, नगर पंचायत अध्यक्ष विनोद साहू, तपन चंद्राकर, नरेंद्र सोनवानी, अविनाश सिंह गौर, राजू साहू, बलीराम कोसरिया, बीरबल मानिकपुरी, तुलेश्वर साहू, कुरुद ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष राजकुमार अग्रवाल, अनिरुद्ध साहू, ओंकार राव, हरिराम निषाद, दयाराम साहू, किशुन निर्मलकर, काशीराम भोसले, दिनेश मंडल, अशोक साहू, राकेश, सुनील साहू, संतोषी निषाद, यशोदा साहू, पुष्पा कोरे, यशोदा साहू, जयनारायण बागमार को धारा 151, 427, 186 के तहत गिरफ्तार कर एसडीएम न्यायालय में पेश किया गया।

पूर्व विधायक लेखराम साहू ने कहा कि प्रशासन महात्मा गांधी की मूर्ति को स्थापित करने के लिए जानबूझ कर रोड़ा अटका रही है। राष्ट्रपिता किसी पार्टी के नहीं हैं, इसलिए रोक लगाना उचित नहीं है।

एसडीओपी ठाकुर ने कहा कि 26 लोग एक राय होकर जबरिया मूर्ति स्थापना कर शासकीय कार्य में बाधा पहुंचा रहे थे। उन्हें गिरफ्तार कर एसडीएम न्यायालय में पेश किया गया।

-आईएएनएस

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!