उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव: दुसरे दौरा का मतदान ईवीएम ख़राबी, वोटर सूची से नाम ग़ायब और छिटपुट बवाल के साथ 6 नगर निगम, 51 नगरपालिका और 132 नगर पंचायतों में संपन्न




राजनाथ सिंह वोट डालने के बाद निशान दिखाते हुए (चित्र साभार: ट्विटर)

द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

लखनऊ (उत्तर प्रदेश), 26 नवम्बर, 2017 | उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव के दुसरे चरण का मतदान संपन्न हो गया। कड़ी सुरक्षा के बीच लखनऊ और वाराणसी नगर निगम समेत 25 जिलों में वोट डाले गए। राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके अग्रवाल ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि निकाय चुनाव के दूसरे चरण में करीब 52 फीसदी मतदान हुआ है। पिछली दौर की अपेक्षा इस दौर में मतदान करने वालों की संख्या बढ़ी है। पिछले दौर के चुनाव में 43.67 फीसदी वोटिंग हुई थी।


लखनऊ में शाम 5 बजे तक 34.2 फीसदी मतदान होने की सूचना है। वहीं लखनऊ जिले में आने वाली नगरपालिका और नगर पंचायतों में 60.3 फीसदी वोटिंग हुई है। डीएम के मुताबिक शाम 5 बजे तक लखनऊ नगर निगम में 7.96 लाख मतदाताओं ने वोट डाले।

दूसरे चरण में लखनऊ समेत 6 नगर निगम, 51 नगरपालिका और 132 नगर पंचायतों में वोटिंग हुई है। लखनऊ के 206, अलीगढ़ के 224, मथुरा के 238, इलाहाबाद के 201, वाराणसी के 125 और गाजियाबाद नगर निगम के 286 वॉर्डों में भी इस चरण में मतदान हुआ। इसके अलावा गौतमबुद्धनगर के 84 वॉर्डों में मतदान की प्रक्रिया पूरी हो गई है। अब 29 नवंबर को तीसरे चरण में 26 जिलों में मतदान होगा तथा वोटों की गिनती 1 दिसंबर को होगी।

रविवार को हुए मतदान में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के उपमुख्यमंत्री डॉ.दिनेश शर्मा, केशव प्रसाद मौर्य, मंत्री मोहसिन रजा सहित कई दिग्गजों ने वोट डाले।

कई पोलिंग बूथ पर ईवीएम खराब होने की भी शिकायतें मिलीं, जिससे वोटिंग प्रभावित हुई तथा कई जगह कई लोग वोटर लिस्ट से नाम गायब होने के कारण वोट नहीं दे सके। सांसद कलराज मिश्रा भी इसी कारण वोट नहीं डाल सके। वाराणसी में फर्जी मतदान के आरोप में 8 महिलाएं और दो पुरुष हिरासत में लिए गए।


राजधानी लखनऊ में ईवीएम खराब होने से सरोजनी नगर नगर के वॉर्ड नंबर 14 और सेक्टर-12 में वोटिंग प्रभावित हुई। बरौली खलीलाबाद इलाके में भी मतदान रुक गया। लखनऊ यूनिवर्सिटी के आर्ट कॉलेज में ईवीएम खराब हो गई। मनकामेश्वर वॉर्ड में लोग 7 बजे से लाइन में आकर खड़े हो गए थे लेकिन ईवीएम खराब होने के चलते लाइन बढ़ती गई और कई लोग बिना वोट दिए लौट आए।

लखनऊ के आदर्श बूथ चंद्रभान गुप्त नगर वॉर्ड 46 मे फर्जी वोटिंग को लेकर जमकर मारपीट हुई। इसी बूथ पर भारत के गृह मंत्री ने अपना वोट डाला। उनके जाने के बाद, यहां वोट डालने पहुंचे कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि उनके पहुंचने से पहले ही उनका वोट किसी और ने डाल दिया। जिसको लेकर जमकर बवाल हुआ।

कई जगह ईवीएम में अजीब शिकायत देखने को मिली। लखनऊ में इंदिरा नगर के रानी लक्ष्मी बाई स्कूल में वोट डाने आए लोगों ने शिकायत दर्ज कराई। उनका कहना था कि वोट डालने के बाद उनका वोट गायब हो जा रहा है। ईवीएम में जीरो दिखाई दे रहा है। जिला प्रशासन ने शिकायत के बाद तत्काल मशीन बदलने का आदेश दिया।

लखनऊ, वाराणसी, इलाहाबाद, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, अमरोहा, रामपुर, पीलीभीत, शाहजहांपुर, अलीगढ़, मथुरा, मैनपुरी, फर्रुखाबाद, इटावा, ललितपुर, बांदा, सुलतानपुर, अंबेडकर नगर, बहराइच, श्रावस्ती, संत कबीर नगर, देवरिया, बलिया और भदोही का आज मतदान संपन्न हो गया।

बदायूं नगर पालिका परिषद के वॉर्ड संख्या 13 के बूथ संख्या 72 पर री-पोलिंग हुई। यहां पहले चरण में मतदान के दौरान मतपेटियों में पानी डाल दिया गया था। इलाहाबाद में शनिवार को एक पीठासीन अधिकारी हसीब अहमद की दिल का दौरा पड़ जाने के बाद मौत हो गई। वह चुनाव ड्यूटी के लिए रवाना हो रहे थे।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!