दुनिया के तीसरे अमीर शख्स का उत्तराधिकारी बन सकता है यह भारतीय, कौन हैं यह?




वॉरेन बफेट

हाल ही में दुनिया के तीसरे सबसे अमीर शख्स और 60 से अधिक कंपनियों के मालिक वॉरेन बफेट (Warren Buffet) ने अपने उत्तराधिकारी के सवाल पर दो लोगों के नाम सुझाए हैं. अमेरिका की कंपनी बर्कशायर हाथवे (Berkshire Hathaway) चलाने वाले 88 साल के बफेट ने कहा है कि भारतीय अजीत जैन और ग्रेगरी एबल भविष्य में उनका साथ दे सकते हैं. दोनों को पिछले साल प्रमोशन देकर बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में शामिल किया गया था. आइए जानते हैं कौन हैं भारतीय अजीत जैन?

68 साल के अजीत जैन का जन्म भारत के सबसे गरीब राज्यों में से एक ओडिशा में हुआ था. 1972 में उन्होंने आईआईटी खड़गपुर से मेकैनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री ली थी. अगले ही साल उन्होंने आईबीएम कंपनी में सेल्स टीम में नौकरी हासिल कर ली.

Ajit Jain
अजीत जैन को वॉरेन बफेट आईडिया की फैक्ट्री कहते हैं

इसके बाद अजीत जैन ने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से 1978 में एमबीए किया था. फिर उन्होंने कंसल्टेंसी फर्म McKinsey & Co. ज्वाइन किया. इसके बाद वे 1986 में इंश्योरेंस कंपनी बर्कशायर हाथवे चले गए.

1986 में बर्कशायर हाथवे ज्वाइन करने का वह समय था जब इंश्योरेंस बिजनेस फल-फूल रहा था और दुनिया का सबसे बड़ा बिजनेस बनने जा रहा था. आने वाले सालों में अजीत जैन ने कंपनी में रहकर किसी भी अन्य कर्मचारी से अधिक रेवेन्यू और प्रॉफिट जेनरेट किया.

फिलहाल जैन बर्कशायर हाथवे रिइंश्योरेंस ग्रुप में प्रेसिडेंट के पद पर काम कर रहे हैं. बीते सालों में वॉरेन बफेट ने अजीत जैन की कई मौके पर तारीफ की है. 2014 में बफेट ने कहा था कि अजीत का दिमाग एक आइडिया फैक्ट्री है.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*