तमिलनाडु : गाजा तूफान के कहर से 23 लोगों की मौत, राहत कार्य जारी




नई दिल्ली : तमिलनाडु के निचले इलाकों से तकरीबन 80 हज़ार लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है. रात भर हुई बारिश और चली तेज हवाओं के कारण यहां के तटीय इलाकों में पेड़ और मकान गिर गए हैं.

पलानीस्वामी ने शुक्रवार को बताया है कि तमिलनाडु तट पार कर चुके भीषण चक्रवाती तूफान ‘गज’ ने 23 लोगों की जान ले ली.

वहीँ तमिलनाडु राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार, निचले इलाकों से 76,290 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है. इन सभी को नागपट्टिनम, पुदुकोट्टई, रामनाथपुरम और तिरूवरूर सहित छह जिलों में स्थापित 300 से ज्यादा राहत शिविरों में रखा गया है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया है, इस दौरान नागपट्टिनम, तिरूवरूर और तंजावुर में भारी बारिश हुई. कई क्षेत्रों में पेड़ उखड़ गए. चक्रवात के कारण यहां और तटवर्ती क्षेत्रों में कई जगहों पर बिजली आपूर्ति बाधित रही.

पलानीस्वामी ने कहा कि युद्ध स्तर पर राहत कार्य चलाया जाएगा और काम अब भी चल रहा है. मृतकों के परिवार को मुख्यमंत्री सार्वजनिक राहत कोष से 10-10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी जाएगी और जो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं उन्हें राहत के तौर पर एक लाख रुपये जबकि मामूली रूप से घायलों को 25-25 हजार रुपये दिए जाएंगे.

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*