अब तक नहीं मिलीं शेल्टर होम से गायब लड़कियां




नई दिल्ली : शाहदरा स्थित दिल्ली सरकार के एक शेल्टर होम से गायब हुईं 9 लड़कियों को अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है। इसे देखते हुए अब दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने नेपाल एंबेसी की मदद मांगी है।

चूंकि सभी लड़कियां मूल रूप से नेपाल की रहने वाली है, इसे देखते हुए क्राइम ब्रांच ने भारत स्थित नेपाली दूतावास को पत्र लिखकर नेपाल की सरकार से अनुरोध किया है कि वह वह नेपाल में इन लड़कियों के घरों और उनके परिवारों का पता लगाकर यह जांच करवाए कि कहीं ये लड़कियां अपने घर पर ही तो नहीं हैं।



क्राइम ब्रांच ने यह भी कहा है कि अगर लड़कियां अपने घर नहीं पहुंची है, तो फिर उनकी तलाश के लिए पुलिस गुमशुदा को तलाशने वाला नोटिस निकालना चाहती है, इसे देखते हुए पुलिस ने दूतावास से यह इजाजत दिलाने में भी मदद मांगी है।

मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट के एक सीनियर अधिकारी ने समाचार एजेंसी भाषा अनुसार क्राइम ब्रांच ने पिछले हफ्ते नेपाली दूतावास को चिट्ठी लिखकर इस मामले की जांच में सहयोग करने के लिए कहा था। पुलिस को उम्मीद है कि सोमवार या मंगलवार तक नेपाली दूतावास से जवाब आ जाएगा और उसी के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।

नवंबर में जीबी रोड से 9 लड़कियों को छुड़ाया गया था और उन्हें शाहदरा के शेल्टर होम में भेजा गया था, मगर दिसंबर के पहले हफ्ते में ये सभी वहां से अचानक गायब हो गईं थीं। इस मामले में दिल्ली सरकार ने 2 अफसरों को सस्पेंड भी किया है।

हालांकि मामले की जानकारी के बाद दिल्ली महिला आयोग ने भी इस मामले में दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस से जवाब तलब किया।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!