सुशील मोदी की बहन रेखा मोदी सृजन घोटाले में आरोपी




सुशील मोदी की बहन रेखा मोदी जिनका नाम सृजन घोटाला से जुड़ा है

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी जो लालू और उनके परिवार पर अब तक घोटालों का आरोप लगाते रहे हैं आज खुद घोटाले से घिरते नज़र आ रहे हैं। बिहार के अब तक के सबसे बड़े घोटाले सृजन घोटाले जोकि एक हज़ार करोड़ से ऊपर का घोटाला है में सुशिल कुमार मोदी की चचेरी बहन रेखा मोदी का नाम जुड़ गया है। उन पर सृजन के खाते से करोड़ों रुपये का भुगतान लेने का आरोप लगा है। जांच एजेंसियों को पता लगा है कि सृजन की ओर से बड़े अफसरों और राजनेताओं को खुश करने के लिए उनके परिजनों पर बड़ी मात्रा में महंगे उपहार न्योछावर किए जाते थे। इनमें से अधिकांश हीरे की ज्वेलरी होती थी। रेखा मोदी द्वारा ज्वेलरी की खरीदारी को लेकर पटना के जालान जेम्स के मालिक रवि जालान ने कबूल किया है कि रेखा मोदी ने उन्हें हीरों की खरीदारी के बदले कई बार भुगतान किया है।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार, रेखा मोदी पटना से फरार हैं और उनके घर पर कोई यह बताने में सक्षम नहीं है कि वह कहां हैं। रेखा मोदी और सृजन की दिवंगत सचिव मनोरमा देवी के बीच रिश्ते काफी मधुर थे। हालांकि सुशिल कुमार के अनुसार रेखा मोदी के साथ उनके संबंध अच्छे नहीं हैं।

इस घोटाले में भाजपा के बिहार और झारखण्ड के कई दिग्गज नेता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, भाजपा के पूर्व सांसद शाहनवाज हुसैन, झारखंड से भाजपा सांसद निशिकांत दूबे, भाजपा से निलंबित किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष विपिन शर्मा के नाम शामिल हैं। इन लोगों का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तरीके से सृजन की दिवंगत सचिव मनोरमा देवी या उनके बेटे अमित कुमार या बहू प्रिया से संबंध रहे हैं। नए खुलासे में रेखा मोदी का नाम जुड़ा है। इस घोटाले में अभी और कई बड़े नेताओं और अफसरों का नाम उजागर होना बाकी है। विशेषज्ञ बताते हैं कि हो सकता हो कि इस तरह का घोटाला बिहार के कई ज़िला मुख्यालयों में हुआ हो अभी केवल भागलपुर और सृजन का ही मामला उजागर हुआ है।

इस घोटाले की जांच शुरू में बिहार की एसआईटी और आर्थिक अपराध की इकाई कर रही थी लेकिन अब सीबीआई ने इस जांच की कमान संभाल ली है और इस सिलसिले में दर्ज एफआईआर और दूसरे जरूरी कागजातों का बारीकी से अध्ययन कर रही है। साथ ही घोटाले से जुड़े सरकारी व बैंक अधिकारियों, कर्मचारियों, सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड के पदधारकों और फायदा भोगियों की सूची बनाकर इनकी चल-अचल संपत्ति का ब्यौरा जुटाने में लगी है। जांच कर रही सीबीआई टीम में 15 सदस्य हैं और इसकी अगुवाई एएसपी सुरेंद्र मल्लिक कर रहे हैं।

गौरतलब है कि सृजन घोटाले की जांच सीबीआई से करवाने को लेकर लालू प्रसाद आशंकित हैं और वह कह रहे हैं कि इसकी जांच सुप्रीम कोर्ट के निर्देश में करवाई जानी चाहिए क्योंकि इसमें जो लोग फंसे हैं उनका रिश्ता भाजपा से है और भाजपा अभी केंद्र और राज्य दोनों में सत्ताधारी है।

तेजस्वी यादव ने सुशिल कुमार मोदी के रेखा मोदी से रिश्ते को नकारने पर तीक्ष्ण प्रहार करते हुए ट्विटर पर टिप्पणी की है। “सुशील मोदी गजबे इंसान है।जब घोटालों मे फँसते है तो भाई-बहन,परिवार को भी नकार देते है।सृजन का सारा माल घर की चारदीवारी मे ही क्यों घुमता रहा?” उनहोंने ट्वीट किया है।

राजद नेता तेजस्वी यादव का ट्वीट

इस समाचार को अंग्रेज़ी में पढ़ें।

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*