शरद की राज्यसभा सदस्यता रद्द करना अवैध : केजरीवाल




-द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

नई दिल्ली, 6 दिसम्बर, 2017 | दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को जनता दल (युनाइटेड) के बागी नेता शरद यादव की राज्यसभा सदस्यता रद्द किए जाने को अवैध, असंवैधानिक बताया और इस फैसले को वापस लेने की मांग की। केजरीवाल ने ट्वीट किया, “शरद यादवजी की सदस्यता रद्द करने का फैसला पूरी तरह अवैध और असंवैधानिक है। यह राजनीतिक प्रतिशोध है। हम इसकी कड़ाई से निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि उनकी सदस्यता रद्द करने के फैसले को वापस लिया जाए।”



मुख्यमंत्री ने यह ट्वीट ऐसे समय किया है, जब दो दिन पहले ही उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने शरद यादव व जद (यू) के एक अन्य बागी नेता अली अनवर की राज्यसभा सदस्यता रद्द करने का फैसला सुनाया था।

नायडू ने अपने विस्तृत आदेश में कहा कि यादव ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की रैली में भाग लेकर व उसे संबोधित कर और पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होकर ‘स्वेच्छा से अपनी सदस्यता त्याग दी’ है।

-आईएएनएस

 

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!