ट्रंप का ट्विटर खाता 11 मिनट के लिए बंद, आलोचक खुश




-द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी डेस्क

सैन फ्रांस्सिको, 3 नवंबर | ट्विटर के एक कर्मचारी ने अपनी सेवा के आखिरी दिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर खाता 11 मिनट के लिए बंद कर दिया। ट्विटर पर इसका जोरदार स्वागत हुआ और कई यूजर्स ने कुछ उल्लासपूर्ण ट्वीट कर इसे ‘महान’ और ‘ऐतिहासिक’ कदम करार दिया। माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफार्म ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि की कि ट्रंप का ट्विटर खाता शाम 7.00 बजे से कुछ देर पहले 11 मिनट के लिए बंद हो गया था।

ट्विटर ने कहा कि उसके एक कर्मचारी द्वारा अनजाने में हुई मानवीय भूल के कारण ट्रंप का खाता बंद रहा।



ट्विटर ने कहा, “हमारी जांच से पता चला है कि यह ट्विटर के ग्राहक समर्थन दल के एक कर्मी द्वारा किया गया, जिसका कार्यालय में आखिरी दिन था। हम इसकी पूर्ण आंतरिक समीक्षा कर रहे हैं।”

हालांकि ट्विटर यूजर्स ने उस कर्मचारी की खूब प्रशंसा की, जिसने ऐसा किया।

केबेल सासेर ने कहा कि जिस वक्त ट्रंप का खाता बंद था, वे साल के सबसे ‘खूबसूरत पल’ थे।

एक अन्य यूजर ने ट्वीट किया, “मैं नहीं चाहता कि ट्रंप का खाता बंद हो। हर ट्वीट एक साक्ष्य है। ट्रंप, ट्वीट करते रहो.. कोई उन्हें यह न बताए कि मूलर उन्हें देख सकता है?” (ट्रंप द्वारा चुनाव के दौरान रूसी हैकरों का समर्थन लेने के आरोपों की जांच रॉर्बट मूलर कर रहे हैं)

एक अन्य ने कहा, “प्रिय ट्विटरकर्मी जिसने भी ट्रंप का ट्विटर खाता बंद किया, आपने अमेरिका को उन 11 मिनटों के लिए बेहतर महसूस कराया। मुझे डीएम (सीधा मैसेज) करें, मैं आपके लिए पिज्जा हट का पिज्जा खरीदूंगा।”

एक अन्य यूजर ने साझा किया, “अगर ट्रंप का अगला ट्वीट राजनीतिक रूप से, गणितीय रूप से, वैज्ञानिक रूप से या व्याकरण के रूप में सही हो.. तो इसका मतलब है कि किसी ने खाता हैक कर लिया है।”

इस दौरान ट्रंप ने 15 मिनटों के लिए अपने 4.1 करोड़ फॉलोअर खो दिए।

एक यूजर ने ट्वीट कर इसकी पुष्टि की, “गलती से ट्रंप का खाता बंद हुआ और उनके 4.1 करोड़ फॉलोअर चले गए.. ट्विटर की राष्ट्रीय संपत्ति घोषित करने की मांग की जाती है।”

हालांकि 15 मिनट बाद ये फॉलोअर वापस आ गए और ट्रंप के फॉलोअरों की संख्या 4.1 करोड़ ही है।

द वर्ज के मुताबिक, ट्रंप को ट्विटर पर प्रतिबंधित करने के लिए कई अभियान चलाए जा रहे हैं।

ट्विटर ने इसके जवाब में कहा है कि ट्रंप के खाते पर भी उसकी वही नीति लागू होती है, जो वह अन्य यूजर्स के लिए है।

-आईएएनएस

 

Liked it? Take a second to support द मॉर्निंग क्रॉनिकल हिंदी टीम on Patreon!




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*